DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जिन्ना महिमामंडन पर भाजपा नेताओं पर बरसे ठाकरे

जिन्ना महिमामंडन पर भाजपा नेताओं पर बरसे ठाकरे

मोहम्मद अली जिन्ना की प्रशंसा करने पर भाजपा नेताओं पर बरसते हुए शिव सेना प्रमुख बाल ठाकरे ने मंगलवार को कहा कि पाकिस्तान के संस्थापक को धर्म निरपेक्ष बताना उन लोगों का अपमान है जिन्होंने भारत की स्वतंत्रता के लिए अपना लहू बहाया।

ठाकरे ने शिव सेना के मुखपत्र सामना में छपे एक संपादकीय में कहा कि लाल कृष्ण आडवाणी ने जिन्ना की प्रशंसा कर वैचारिक भ्रम पैदा कर दिया। जसवंत सिंह ने भी इसमें योगदान दिया। उन्होंने कहा कि यह वैचारिक भ्रम की वजह से ही है कि हिन्दू निराश और मार्ग दर्शन रहित हो गए हैं तथा इसका असर लोकसभा चुनावों में दिखा।

ठाकरे ने संपादकीय में पूछा है कि जिस व्यक्ति ने मुसलमानों के लिए अलग देश की मांग की वह धर्म निरपेक्ष कैसे हो सकता है। उन्होंने कहा कि जिन्ना को धर्म निरपेक्ष बताना उन लोगों का अपमान है जिन्होंने देश की आजादी के लिए खून बहाया।

शिव सेना प्रमुख ने पूछा कि यदि जिन्ना धर्म निरपेक्ष थे तो फिर आडवाणी पाकिस्तान का सिंध प्रांत छोड़कर भारत क्यों आए। ठाकरे ने कहा कि वह यह नहीं समझ पा रहे कि अपने आपको कट्टर राष्ट्रवादी कहने वाले भाजपा नेता अपने सिद्धांतों से बार बार क्यों फिसल जाते हैं। उन्होंने कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि भाजपा में खुद को जिन्ना का अनुयायी दिखाने के लिए प्रतिस्पद्र्धा हो रही है।

जसवंत सिंह कह चुके हैं कि जिन्ना की दुष्ट छवि भारत द्वारा बनाई गई और यह जवाहर लाल नेहरू थे जिनके केंद्रीयकृत प्रणाली में विश्वास के चलते देश का बंटवारा हुआ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जिन्ना महिमामंडन पर भाजपा नेताओं पर बरसे ठाकरे