DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पहली पत्नी ने लगाई कुवैत के शादी समारोह में आग

पहली पत्नी ने लगाई कुवैत के शादी समारोह में आग

कुवैत में गत 15 अगस्त की रात एक शादी समारोह में लगी आग के बाद 43 लोगों की हुई मौत के पीछे दूल्हे की पहली पत्नी का हाथ था।

कुवैत के सरकारी समाचार चैनल ने सोमवार को बताया कि कुछ चश्मदीदों ने दूल्हे की पूर्व पत्नी द्वारा विवाह समारोह के दौरान महिला शिविर में किरोसिन छिड़ककर आग लगाते हुए देखा था। इस 23 वर्षीय महिला ने अपने पति की दूसरी शादी के विरोध में बदला लेने के लिए ऐसा किया। सूत्रों के अनुसार उक्त महिला ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है।

हालांकि शिविर में आग लगाने के बाद यह महिला तो बच निकली पर इस आगजनी में उसकी मां और बहन जल गई। कुवैत के अल जहरा जिले में लगी इस आग और उसके बाद मची भगदड से महिलाओं और बच्चों समेत कम से कम 43 लोगों की मौत हो गई थी तथा 90 अन्य घायल हो गए। इस शिविर से बाहर निकलने का मात्र एक ही रास्ता था जिसकी वजह से भगदड़ मच गई।

शिविर में 13 खंभे थे और इसमें 200 लोगों के बैठने की व्यवस्था थी। सूती कपडे से बना यह शिविर महिलाओं और बच्चों से खचाखच भरा था और उसमें आपातकालीन द्वार तक नहीं था। कुवैत में इस हादसे के बाद से शादी समारोहों के लिए शिविर बनाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पहली पत्नी ने लगाई कुवैत के शादी समारोह में आग