DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साइंस कॉलेज में छात्रों का हंगामा

साइंस कॉलेज में कैजुअल वैकेंसी के तहत एडमिशन के दौरान नए सिरे से फॉर्म की बिक्री किए जाने के खिलाफ छात्रों ने जमकर हंगामा किया। छात्रों ने कॉलेज प्रशासन पर विश्वविद्यालय के नियमों का पालन नहीं  करने का आरोप लगाया। छात्रों का दल कॉलेज मुख्यालय पहुंचा और हंगामा शुरू कर दिया।

छात्रों का कहना था कि कैजुअल वैकेंसी में पहले भरे गए फॉर्म के आधार पर ही एडमिशन ली जाती है लेकिन कॉलेज में कैजुअल वैकेंसी के तहत एडमिशन के लिए नए सिरे से फॉर्म भरवाया गया है। कॉलेज प्रशासन का स्पष्ट कहना है कि नियमों के अनुसार एडमिशन हुए हैं और इससे किसी को कोईदिक्कत नहीं होनी चाहिए।

दोबारा फॉर्म भरवाए जाने के खिलाफ आक्रोशित छात्रों ने आंदोलन की रणनीति पहले ही तैयार कर ली थी। लगभग 12 बजे छात्रों का दल कॉलेज मुख्यालय  पहुंचा और हंगामा शुरू कर दिया। हंगामा कर रहे छात्रों को अधिकारियों ने जब कहा कि विवि प्रशासन के निर्देश पर ही एडमिशन ली गई है तो छात्र उग्र हो गए। छात्रों का दल प्राचार्य के कक्ष में घुस गया। प्राचार्य ने छात्रों को समझने का प्रयास किया लेकिन वे नहीं मानें। इसके बाद प्राचार्य ने छात्रों को बाहर जाने को कहा।

इससे वे उग्र हो गए और कक्ष में रखी कुर्सियों को पलट दिया। फाइलों को भी इधर-उधर फेंक दिया। प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने कॉलेज प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और कुलपति से इस मामले पर तत्काल कार्रवाई की मांग की। एनएसयूआई के डा. वरुण शर्मा, नीलरंजन कुमार व सुशांत, छात्र राकांपा के प्रदेश महासचिव मो. तनवीर अहमद, छात्र जदयू के इं. मुकेश कुमार सिंह व तहसीन रजा और छात्र नेता चंदन कुमार व धर्मेद्र कुमार ने कहा कि कॉलेज प्रशासन ने विश्वविद्यालय नियमों का उल्लंघन करते हुए छात्रों से अतिरिक्त राशि वसूली है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:साइंस कॉलेज में छात्रों का हंगामा