DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मौसम के साथ बिजली निगम भी मेहरबान

-सिस्टम पर अधिक लोड डालने का आया संदेश
-पहले दिन पॉवर कट से मिली निजात
-ओवरलोड व फॉल्ट के चलते बिजली कट का सिलसिला जारी

 
मौसम के साथ बिजली निगम भी उपभोक्ताओं पर मेहरबान हो गया है। बरसात के बाद तापमान में आई गिरावट से लोगों को गर्मी में काफी राहत मिली है। सरकार के खरीदी गई 75 मेगावाट बिजली का असर सोमवार से दिखाई दिया। डीएचबीवीएन ने सभी सब-स्टेशन इंचाजरे  को तड़के दो बजे संदेश भेजाकर सिस्टम पर ज्यादा लोड डालने के निर्देश दिए। इस संदेश के बाद से सोमवार को पॉवर कट गायब रहे।


ओवरलोड व फॉल्ट के चलते बिजली कटों से अभी निजात नहीं मिली है। बिजली आपूर्ति में बढ़ौतरी होने के बाद उद्योगों को दी जाने बिजली में इजाफा किया गया है। इन्हें 16 अगस्त को 8 घंटे के स्थान पर 21 घंटे बिजली मुहैया कराई गई। छुट्टी के चलते 16 अगस्त को बिजली की मांग कम रही। डीएचबीवीएन के कंट्रोल रूम के मुताबिक अन्य दिनों में  शहर में बिजली आपूर्ति 480 से 490 मेगावाट तक की जाती रही। सोमवार को यह आपूर्ति बढ़कर 529 मेगावाट तक पहुंच गई। डीएचबीवीएन के एसई आईबी मुदगिल ने बताया कि बिजली आपूर्ति बढ़ाई गई है। मैक्सिमम लोड डालने का संदेश दिया गया है। उधर, मौसम में आए बदलाव से बिजली की मांग भी काफी कम हुई है।

 

संदेश के बावजूद लगा कई स्थानों पर
बिजली कट
बरसात, ओवरलोड व फॉल्ट के चलते ईदगाह से बल्लभगढ़ लाइन सुबह सवा नौ बजे से सवा दस बजे तक बंद रही। एस्कॅार्ट्स दो से अर्बन क्षेत्र पर एक घंटे का कट लगाया गया। इसी तरह ए-2 से ओवरलोड के चलते सभी फीडर एक घंटे के लिए बंद करने पड़े। सेक्टर-3 में सवा 11 बजे परमिट लेकर मरम्मत का काम किया गया। सेक्टर-18 व 19 में तार बदलने के चलते शाम तक परमिट लिया गया। ए-5 से डीग फीडर ब्रेकडाउन के चलते सुबह साढ़े छह बजे से दो बजे तक बंद रहा। ए-4 से खेड़ी कलां तीन घंटे तक बंद रहा। 11 केवीए धौज सुबह 5 बजकर 40 मिनट से लेकर 9 बजे तक बंद रहा।


बिजली आपूर्ति बढ़ने से उद्योग राहत में
बिजली संकट के चलते शहर के उद्योग गहरे संकट के दौर से गुजरे। खासकर अगस्त का महीना उनके लिए बेहद दुखदाई रहा। बिजली कमी के चलते उत्पादन में भारी गिरावट आई। कई दिनों तक बिजली आठ घंटे भी नहीं मिली। इसके चलते डीएचबीवीएन ने आठ घंटे बिजली देने का शेडय़ूल जारी किया। बावजूद इसके उद्योगों को बिजली पूरी नहीं मिली। सरकार द्वारा बिजली खरीदने से उद्योगों को अब राहत मिली है।

उद्योगों को बिजली आपूर्ति का ब्यौरा

  8 अगस्त   15.00 घंटे
  9 अगस्त     6.30 घंटे
    10 अगस्त   18.00 घंटे
    11 अगस्त   08.00 घंटे
    12 अगस्त   05.30 घंटे
    13 अगस्त   07.55 घंटे
    14 अगस्त    12.10 घंटे
    15 अगस्त   21.10 घंटे
    16 अगस्त   21.15 घंटे

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मौसम के साथ बिजली निगम भी मेहरबान