DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत के खिलाफ इस्तेमाल नहीं होगी हमारी जमीनः नेपाल

भारत के खिलाफ इस्तेमाल नहीं होगी हमारी जमीनः नेपाल

नई दिल्ली के अपने पहले दौरे से पूर्व नेपाल के प्रधानमंत्री माधव कुमार नेपाल ने सोमवार को दृढ़ता से कहा कि उनका देश अपनी सरजमीं का इस्तेमाल भारत के खिलाफ नहीं होने देगा।

माधव कुमार ने अपने बड़े पड़ोसी देश से बुनियादी ढ़ांचे के विकास तथा उर्जा उत्पादन के क्षेत्र में सहयोग करने की भी मांग की। उन्होंने पांच दिवसीय यात्रा के लिये नई दिल्ली रवाना होने से पहले अपने आधिकारिक आवास पर दिये साक्षात्कार में कहा, मूल रूप से यह सदभावना यात्रा है और मुझे उम्मीद है कि यह यात्रा दोनों देशों के बीच सौहार्दपूर्ण तथा करीबी संबंधों को नई ऊंचाइयों पर ले जायेगी।

56 वर्षीय माधव कुमार ने कहा कि साझा विश्वास तथा समझ को अधिक मजबूत करना तथा सहयोग को विस्तार देने के तरीके तलाशना इस यात्रा का उद्देश्य है।

उन्होंने कहा कि हम भारत नेपाल संबंधों की समग्र समीक्षा करेंगे और यह तलाशेंगे कि अवरोध कहां हैं और उन्हें हल करने के तरीके सुझायेंगे। प्रधानमंत्री ने इस बात पर भी जोर दिया कि नेपाल कभी भी अपनी सरजमीं का इस्तेमाल भारत के खिलाफ नहीं होने देगा।

माधव कुमार ने कहा कि हम हमारे क्षेत्र को पड़ोसी देशों के हितों के खिलाफ इस्तेमाल नहीं होने देने के लिये प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने कहा कि नेपाल एक देश को दूसरे के खिलाफ इस्तेमाल करने की नीति के विरोध में है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के साथ नई दिल्ली में होने वाली चर्चा के दौरान प्रत्यर्पण संधि, 1950 की शांति तथा मैत्री संधि की समीक्षा, भूटान की शरणार्थी समस्या, नेपाल की शांति प्रक्रिया तथा सुरक्षा और सीमा से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की जायेगी।

माधव कुमार ने कहा कि पूर्व में हमने ‘शांति तथा मैत्री’ संधि की समीक्षा करने की प्रक्रिया शुरू की थी। उन्होंने कहा कि इस बार भी वह अपने भारतीय समकक्ष के समक्ष वर्ष 1950 की इस संधि की समीक्षा करने, इसे अद्यतन बनाने तथा इसमें बदलाव करने के मुद्दे को उठायेंगे।

उन्होंने स्पष्ट किया कि बहरहाल, प्रत्यर्पण संधि और सीमा के नक्शे के बारे में अभी किसी समझौते पर हस्ताक्षर नहीं किये जायेंगे। माधव कुमार ने कहा कि हम चाहेंगे कि भारत भूटानी शरणार्थियों को उनके देश सम्मानपूर्वक वापस भेजने की प्रक्रिया में हमारी मदद करे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारत के खिलाफ इस्तेमाल नहीं होगी हमारी जमीनः नेपाल