DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डैन की अगुआई में चीन का दबदबा बरकरार

डैन की अगुआई में चीन का दबदबा बरकरार

गत विजेता लिन डैन ने रोमांचक मुकाबले में शनिवार को गचीबाउली स्टेडियम में सोनी डवी कुनकोरो को हराकर विश्व बैडमिंटन चैम्पियशिप में चीन के दबदबे को कायम रखते हुए पुरुष एकल के फाइनल में प्रवेश किया।

दुनिया के पांचवें नंबर के खिलाड़ी डैन ने एक घंटे से अधिक चले संघर्षपूर्ण सेमीफाइनल मुकाबले में इंडोनेशिया के छठे वरीय खिलाड़ी को 21-14, 13-21, 21-15 से हराया।

दूसरे सेमीफाइनल में दुनिया के दूसरे नंबर के खिलाड़ी चेन जिन ने सिर्फ 39 मिनट में चौथे नंबर के खिलाड़ी इंडोनेशिया के तौफीक हिदायत को 21-16, 21-6 से बाहर का रास्ता दिखाया। रोचक बात यह है कि पुरुष और महिला दोनों के एकल फाइनल में रविवार को चीनीखिलाड़ी ही आमने-सामने होंगे।

महिला सेमीफाइनल में चीन की लू लेन ने हमवतन लिन वैंग को 21-18, 21-19 से शिकस्त दी जबकि चीन की ही शेई शिंगफेंग ने फ्रांस की होंगियान पी को 21-18, 21-8 से हराकर फाइनल में प्रवेश किया।

महिला युगल के फाइनल में चीन को खिताब मिलना तय है क्योंकि फाइनल में पहुंचने वाली दोनों जोड़ियां इसी देश की हैं। यावेन झांग और टिंगटिंग झाओ की आठवीं वरीय जोड़ी को फाइनल में शू चेंग और युनलेई झाओ की हमवतन दूसरी वरीय जोड़ी का सामना करना है। झांग और झाओ ने सेमीफाइनल में जिंग डू और यांग यू की हमवतन पांचवीं वरीय जोड़ी को 68 मिनट चले संघर्षपूर्ण मुकाबले में 24-22, 18-21, 21-8 से हराकर फाइनल में प्रवेश किया। दूसरी तरफ चेंग और झाओ ने जिन मा और शियाओली वांग की छठी वरीय जोड़ी को सीधे गेम में 21-16, 21-12 से हराया।

मिश्रित युगल में डेनमार्क के थामस लेबोर्न और कामिला राइटर जुहल ने सेमीफाइनल में योंग डेई ली और हयो जुंग ली की शीर्षवरीय कोरियाई जोड़ी को 18-21, 21-9, 21-18 से हराकर फाइनल में प्रवेश किया। थामस ने एक समय खेल में रुचि खोने के बाद बैडमिंटन को अलविदा कह दिया था लेकिन अब यह खिलाड़ी अपनी मिश्रित युगल जोड़ीदार के साथ खिताब जीतने से एक कदम दूर है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डैन की अगुआई में चीन का दबदबा बरकरार