DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्वाइन फ्लू से दो और लोग मरे

स्वाइन फ्लू से दो और लोग मरे

स्वाइन फ्लू से की बीमारी ने कर्नाटक की राजधानी बेंगलूर में फिर शनिवार को दो लोगों की जान ले ली। देश में अब तक इस बीमारी से 23 लोगों की मौत हो गई।

हालांकि शुक्रवार को प्रशासन ने पहले 24 मरीजों के इस बीमारी से मरने की बात कही थी लेकिन बाद में उसने कहा कि 21 मरीजों की स्वाइन फ्लू से मौत हुई है और तीन मरीज अन्य कारणों से मरे हैं। कनार्टक में शनिवार को दो मरीजों 28 वर्षीय मंजूनाथ और 55 वर्षीय शिवाना ने दम तोड़ दिया। इस तरह अब तक स्वाइन फ्लू ने 23 जिंदगियां लील ली है। कर्नाटक में इस बीमारी से पहली मौत 12 अगस्त को हुई थी।

उधर, महाराष्ट्र के औरंगाबाद में 20 वर्षीय एक मरीज की शुक्रवार रात सरकारी मेडिकल कालेज में मौत हो गई। उसे इस बीमारी की संदिग्ध मरीज घोषित किया गया था और टेमी फ्लू की दवा भी दी गई थी। उसके रक्त नमूने की जांच रिपोर्ट अभी नहीं मिली है। हालांकि अब तक स्वाइन फ्लू से बचे रहे असम में शुक्रवार को इस बीमारी का पहला मामला सामने आया।

पुणे में पढ़ने वाले राज्य के एक छात्र को जांच परीक्षण में इस बीमारी से ग्रस्त होने की बात सामने आई। उसका इलाज चल रहा है। पुडुचेरी में स्वाइन फ्लू के तीन पुष्ट मामले सामने आए हैं और तीनों मरीजों को जवाहरलाल इंस्टीटूट आफ पोस्टग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च में अलग वार्ड में रखा गया।

तमिलनाडु सरकार ने पांच निजी प्रयोगशालाओं के एच 1 एन 1 फ्लू की जांच के लिए अधिकृत किया है। जिनमें चेन्नई के तीन तथा कोयंबटूर और तिरुचिरापल्ली का एक-एक अस्पताल है। राज्य में स्वाइन फ्लू के लक्षण वाले मरीज इन अस्पतालों में जांच करवा सकते हैं।

इसी बीच केंद्र सरकार ने जांच,  मरीजों को अलग रखने, मरीजों की श्रेणी तय करने और इलाज संबंधी ताजे दिशानिर्देश जारी किए है। शुक्रवार रात स्वास्थ्य मंत्री गुलाम नबी आजाद की अध्यक्षता में हुई उच्चस्तरीय बैठक में विश्व स्वास्थ्य संगठन, अमेरिका के रोग रोकथाम नियंत्रण संस्थान, ब्रिटेन के नेशनल हेल्थ सर्विसेज आदि वैश्विक संस्थानों के दिशा-निर्देशों पर विचार करने के बाद ताजे दिशा-निर्देश जारी किए गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:स्वाइन फ्लू से दो और लोग मरे