DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

60%% लोग नक्सल प्रभावित

दिल्ली के जनवादी कवि मंगलेश डबराल ने कहा है कि देश में 60 फीसदी लोग नक्सल समस्या से प्रभावित हैं। दमन और कानून के माध्यम से इस समस्या का समाधान संभव नहीं है। यह समस्या व्यवस्था को लेकर पनपी है। हालांकि अब नक्सलवाद अपने उद्देश्यों से भटक गया है। बेरोगारी, अशिक्षा व भ्रष्टाचार इस समस्या के मुख्य जड़ हैं। प्रो मंगलेश ने उक्त बातें 23 मार्च को रांची कॉलेज के राजनीतिशास्त्र विभाग द्वारा आयोजित ‘नक्सल समस्या व समाधान’ विषयक दो दिनी सेमिनार के उद्घाटन के मौके पर बतौर मुख्य वक्ता कही।ड्ढr कार्यक्रम के अध्यक्ष रांची विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो एए खान ने कहा कि शिक्षा के प्रसार और राजनीति में सुधार से ही इस समस्या का समाधान संभव है। वरिष्ठ पत्रकार हरिवंश ने कहा कि नक्सल समस्या के जड़ तक जाना होगा। भ्रष्टाचार मिटे, अच्छे लोग राजनीति में आयें, त्वरित न्याय मिले और कल्याणकारी योजनाएं सही ढंग से लागू हो, तभी समस्या पर काबू पाया जा सकता है। इससे पहले अतिथियों का स्वागत करते हुए प्राचार्य डॉ आनंदभूषण ने कहा कि शिक्षक, राजनीतिज्ञ सहित सभी को अपनी जिम्मेदारी निभानी होगी। कार्यक्रम का संचालन डॉ एलके कुंदन ने किया। सेमिनार में डॉ रमेश शरण, दिल्ली के मदन कश्यप, बोधगया के प्रो केदारनाथ कुमार, जमशेदपुर के राजेंद्र भारती, पूर्णिया के डॉ देवनारायण यादव, डालटगंज के अरविंद अविनाश, डॉ कुमुद कला मेहता और प्रो रविभूषण सहित कई बुद्धिाीवी भाग ले रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: 60%% लोग नक्सल प्रभावित