DA Image
29 जनवरी, 2020|5:25|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इस्पात कंपनियों को अगली दो तिमाहियों में नुकसान हो सकता है : मुतुरमन

टाटा स्टील के प्रबंध निदेशक बी मुतुरमन ने कहा कि विश्व की ज्यादातर इस्पात कंपनियां जिन्होंने पहली तिमाही में नुकसान दर्ज किया था, वे अगली दो तिमाहियों में भी नुकसान की चपेट में रह सकती हैं।

मुतुरमन ने 63वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर यहां कारखाना क्षेत्र में झंडा फहराते हुए कहा सिर्फ एक साल पहले की ही बात है कि हम अर्थव्यवस्था की तेज रफ्तार के बारे में बात कर रहे थे लेकिन इसी एक साल के दौरान हालात अलग दिखने लगे हैं।

उन्होंने कहा कि आर्थिक मंदी ने बाजार में नकदी की कमी पैदा कर दी जिससे विश्व भर में उपभोक्ता और कार्यपूंजी की कमी पैदा हो गई।
 
टाटा स्टील के प्रबंध निदेशक ने कहा कि नरमी से उद्योग के सभी क्षेत्रों पर गंभीर असर हुआ । इस्पात की मांग में भारी कमी दर्ज हुई और इसकी कीमत में इससे भी अधिक कमी आई।

मुतुरमन ने कहा कि भारत और चीन इस मामले में भाग्यशाली रहे कि उनपर विश्व के अन्य देशों के मुकाबले मौजूदा मंदी का असर कम हुआ।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:इस्पात कंपनियों को नुकसान हो सकता है : मुतुरमन