DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मनमोहन ने दिया पानी बचाओ का नारा

मनमोहन ने दिया पानी बचाओ का नारा

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने आज देशवासियों से पानी बचाओं को राष्ट्रीय नारा बनाने और खद्यान्न के मामले में आत्मनिर्भरता के वास्ते दूसरी हरित क्रांति के लिए एकजुट होकर काम करने का आह्वान किया।

डा. सिंह ने लालकिले पर लगातार छठी बार राष्ट्रीय तिरंगा फहराने के बाद देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा  कि इस बार मानसून में कमी आई है जिसका फसलों पर विपरीत प्रभाव पडे़गा लेकिन हमे भरोसा है कि इस समस्या का बखूबी सामना कर पाएंगे। उन्होंने कहा कि देश में अनाज के पर्याप्त भंडार है। दूसरी हरित क्रांति की जरूरत है और हमारा लक्ष्य है कि कृषि में सात प्रतिशत की विकास दर हासिल करें ।

प्रधानमंत्री ने जलवायु परिवर्तन के कारण जल संकट के प्रति आगाह करते हुए देशवासियों के लिए पानी बचाओ का नारा दिया। उन्होंने कहा कि दरअसल (पानी बचाओ) देश भर में राष्ट्रीय नारा हो जाना चाहिए। उन्होंने गंगा को साफ सुथरा रखने के लिए हर किसी से योगदान देने की भी अपील की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मनमोहन ने दिया पानी बचाओ का नारा