DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कब मिलेगा लाडले को सम्मान

हमने कभी नाय सोची कि वाके पौते कू भी इनाम मिलेगो। लेकिन मानव सेवा समिति ने यह काम बड़ो ही अच्छो करो है। ऐसे न तो भगवान लम्बी उमर देय। उनके जीवन में याते बड़ी खुशी की और कहा बात हो सकेगी। यह कहना है सरकारी स्कूलों में दसवीं कक्षा के परीक्षा परिणाम में टॉपर आने वाले मेवला महाराजपुर स्कूल की ग्यारहवीं कक्षा के छात्र आकाश चपराना की दादी राजो का।

हैरानी है कि सरकारी स्कूल में टॉपर रहे इस छात्र की प्रशासन की ओर से कोई सुध नहीं ली गई। हसला के पूर्व प्रधान सुशील कण्वा का कहना है कि सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले ऐसे प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को प्रशासन की ओर से 15 अगस्त पर सम्मानित किया जाना चाहिए था।

आकाश दसवीं कक्षा में 600 में से 521 अंक लेकर जिले के सभी सरकारी स्कूलों के टॉपर रहा। शिक्षकों को उम्मीद थी कि प्रशासन की ओर से इस छात्र को सम्मानित किया जाएगा। मगर प्रशासन की सूची में सम्मानित होने वालों में इसका नाम नहीं।


मानव सेवा समिति ऐसे प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को सम्मानित करने जा रही है। इसे लेकर 15 अगस्त को सेक्टर-19 में एक कार्यक्रम का आयोजित किया जा रहा है। आकाश का नाम भी इस समिति की सूची में शामिल है। प्रिंसिपल निरजा चौहान व प्राध्यापक सुशील कण्वा ने इस बारे में आकाश को बताया तो वह खुशी से उझल पड़ा। उसने यह बात अपनी मां सुमन को बताई। खुशी के छलके आंसूओं के बीच सम्मान की खबर पाकर दादा व दादी ने आकाश को गले लगा लिया। आकाश की दादी ने संवाददाता से कहा कि अब उसे रात काटनी भारी पड़ रही है। वह अपने पौते के हाथ में उस सम्मान को देखने के लिए आतुर है। उधर, बुखार से पीड़ित होने के बावजूद आकाश ने कार्यक्रम में जाने की तैयारी पूरी कर ली है। इंतजार है तो सुबह होने का।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कब मिलेगा लाडले को सम्मान