DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कश्मीर का हल पाक विदेश नीति का आधारः गिलानी

कश्मीर का हल पाक विदेश नीति का आधारः गिलानी

कश्मीर मुद्दे के शांतिपूर्ण ढंग से हल को पाकिस्तान की विदेश नीति की आधारशिला बताते हुए प्रधानमंत्री युसूफ रजा गिलानी ने उम्मीद जाहिर की कि भारत और पाक द्वारा हाल में उठाए गए कदम क्षेत्र के हालात में सुधार की दिशा में ठोस प्रगति का आधार बनेंगे।

पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस पर आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए गिलानी ने अपनी और राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी की भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से हुई मुलाकात का जिक्र करते हुए कहा कि मैं इन बैठकों के नतीजों को लेकर बेहद आशान्वित हूं।

गिलानी ने सरकार के मंत्रियों, सांसदों तथा तीनों सेनाओं के प्रमुखों समेत उपस्थित जनसमूह से कहा कि मुझे उम्मीद है कि क्षेत्र में शांति और सुरक्षा के लिये दोनों देशों द्वारा उठाए गए कदम स्थिति को बेहतर बनाने की दिशा में ठोस प्रगति लाएंगे।

उन्होंने कहा समानता की बुनियाद पर तथा हस्तक्षेप नहीं करने के सिद्धांत की रोशनी में हम आदर्श पड़ोसियों की भूमिका अदा कर सकते हैं। गिलानी ने यह भी कहा कश्मीरी लोगों की आकांक्षाओं के अनुरूप कश्मीर मुद्दे का शांतिपूर्ण हल पाकिस्तान की विदेश नीति की आधारशिला है।

देश की विदेश नीति के अन्य पहलुओं पर रोशनी डालते हुए उन्होंने कहा कि शांतिपूर्ण और स्थायित्वपूर्ण अफगानिस्तान-पाकिस्तान के लिये यह बहुत जरूरी है। आतंकवादियों के खतरे की वजह से स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रम खुले प्रांगण में आयोजित नहीं किये गए और कार्यक्रम स्थल में दाखिले पर भी कुछ पाबंदियां लगाई गई थीं।

गिलानी ने कहा हमारी सरकार ने दोनों मुल्कों के बीच भाईचारे और अमन का माहौल बनाने के लिये शुरुआत से कदम उठाए हैं। उन्होंने कहा कि अमेरिका और पाकिस्तान के रिश्ते विश्व शांति के लिहाज से विशेष रूप से महत्वपूर्ण हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पाकिस्तान अपने साथ रिश्तों को मजबूत करने तथा अधिक वित्तीय सहायता मुहैया कराने के लिये विधेयक पारित कराने की दिशा में अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा द्वारा किये जा रहे प्रयासों की सराहना करता है।

उन्होंने कहा एक शांतिप्रिय और जिम्मेदार देश होने के नाते पाकिस्तान ने मुल्क के अंदर और उसकी सरहद के बाहर अमन कायम करने के लिये महत्वपूर्ण योगदान किया है। गिलानी ने कहा इस मकसद के लिये हमारे लोगों, हमारी फौजों और कानून पर अमल कराने वाली एजेंसियों ने बड़ी कुर्बानियां दी हैं। हमारी अर्थव्यवस्था के सामने मुश्किलें पैदा हुईं और हमारे समाज ने भी गंभीर चुनौतियों का सामना किया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पाकिस्तान के लोगों और फौजों ने आतंकवाद तथा कट्टरपंथ की चुनौतियों का बहादुरी से सामना किया। साथ ही उन्होंने माहौल को भयमुक्त बनाकर स्थायी शांति कायम करने के लिये संघर्ष जारी रखा है ताकि देश में आतंकवादियों की मनमानी के बजाय कानून का शासन स्थापित हो।

गिलानी ने कहा कि उनकी सरकार देश के सामने खड़ी आर्थिक मंदी, ऊर्जा संकट और अच्छे शासन की उपलब्धता जैसी अन्य चुनौतियों का सामना करने के प्रति संकल्पबद्ध है। प्रधानमंत्री ने कहा सत्तारूढ़ पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी समाधान राह पर बढ़ना और चुनौतियों से निपटने के लिये सभी राजनीतिक दलों के साथ काम करना जारी रखेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कश्मीर का हल पाक विदेश नीति का आधारः गिलानी