DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वज्रपात के कारण सात की मौत और आठ घायल

झारखण्ड के विभिन्न इलाकों में हुए वज्रपात के कारण तीन छात्राओं समेत सात लोगों की मौत हो गई और आठ अन्य घायल हो गये ।

पुलिस सूत्रों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि दुमका के विभिन्न इलाकों में कल रात हुए वज्रपात के कारण तीन छात्राओं समेत कुल चार लोगों की मौत हो गई और तीन अन्य लोग घायल हो गये।

वज्रपात में मारी गयी छात्राओं की शिनाख्त सावित्री मरांडी , पार्वती मरांडी और सोनामोणि बास्की के रूप में की गई है । घटना के समय ये अपने खेतों में काम कर रहीं थी और वज्रपात की वजह से वे एक पेड़ के नीचे छुपने की कोशिश की थी । विश्मपुर गांव में घटी इस घटना में तीनों छात्राओं की मौत घटनास्थल पर ही हो गई ।

खारसुनी गांव में हुए वज्रपात में 20 वर्षीय मंजू देवी की मौत हो गई जबकि उसका पति लालटू शील (28वर्ष) बुरी तरह से जल गये हैं ।

पुलिस सूत्रों के अनुसार कोलुआ गांव में वज्रपात के कारण अपने आंगन में बैठे 16 वर्षीय अरूण कुमार ठाकुर की कल शाम मौत हो गई । इन सूत्रों के मुताबिक अरूण कुमार नामक एक और व्यक्ति की कानदरहे गांव में कल शाम वज्रपात से झुलसने की वजह से मौत हो गई ।

वज्रपात से पलामू जिले के हरियारगंज में एक और व्यक्ति के मारे जाने की सूचना मिली है ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वज्रपात के कारण सात की मौत और आठ घायल