DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आओ गोपाल को भोग लगाएं

आओ गोपाल को भोग लगाएं

मेवे की खीर
सामग्री : डेढ़ लीटर फुल क्रीम मिल्क, एक कप मखाने छोटे टुकड़ों में कटे हुए, चार हरी इलायची का पाउडर, आधा कप चीनी, दो चम्मच कंडेंस्ड मिल्क, केवड़ा अर्क की कुछ बूंदें, 20 ग्राम बादाम के महीन टुकड़े, दो चम्मच कटे हुए पिस्ता, दो  चम्मच काजू कटे हुए, दो चम्मच चिरौंजी, दो चम्मच किशमिश।
विधि : भारी तले वाले पतीले में दूध को उबालें। एक उबाल आने पर उसमें इलायची और चीनी मिला दें। मंदी आंच पर दूध को आधा होने तक पकाएं। एक अलग पैन में एक चम्मच देसी घी में कटे हुए मखाने भूनें और उसे दूध में मिला दें। इसके बाद कंडेंस्ड मिल्क और बाकी सभी मेवे मिला दें। गाढ़ा होने तक पकाएं। आंच से उतार लें। केवड़ा अर्क और किशमिश डालें।

पनीर और केसर संदेश
सामग्री : 350 ग्राम घरेलू पनीर     (कसा हुआ), तीन चौथाई चीनी बारीक पिसी, एक चम्मच केसर (एक चम्मच पानी में घुला), थोड़ा केसर,  केवड़ा अर्क या नींबू रस।
विधि : पनीर और चीनी को एक बर्तन में डाल कर हथेलियों से अच्छी तरह रगड़ लें। अब इस मिश्रण को तीन भागों में बांटें। एक तिहाई पनीर को थाली में डालें और अच्छी तरह दबाएं, जिससे वह परत की तरह बन जाए। अब केसर और नींबू रस को एक तिहाई पनीर में डाल कर मिला लें। इससे पनीर का रंग पीला हो जाएगा। अब इसे सफेद परत के ऊपर अच्छी तरह फैला लें। इसके ऊपर शेष एक तिहाई पनीर की परत बिछा कर अच्छी तरह दबा दें। फ्रिज में आधा घंटा ठंडा होने के लिए रखें। अच्छी तरह सेट होने के बाद इसे चौकोर टुकड़ों में काट लें।  ठंडा सर्व करें। आप चाहें तो इसे गोलाकार भी बना सकते हैं। 

सीताफल और आलू के पकौड़े
सामग्री : डेढ़ कप सिंघाड़े का आटा, आधा कप कुट्टू का आटा, दो हरी मिर्च कटी हुई, आधा चम्मच धनिया पाउडर, आधा चम्मच लाल मिर्च पाउडर, एक चौथाई हल्दी पाउडर, सेंधा नमक स्वादानुसार, पानी जरूरत के अनुसार, तेल तलने के लिए, तीन चौथाइ कप कसा हुआ सीताफल, तीन चौथाई कप आलू कसे हुए।
विधि : सिंघाड़े और कुट्टू के आटे को एक बर्तन में डाल कर अच्छी तरह मिला लें।  शेष सामग्री को मिला लें और उसमें उचित पानी मिला कर एक समान गाढ़ा घोल बना लें। सब्जियों के टुकड़ों को घोल में अच्छी तरह मिला लें। कढ़ाही में तेल गर्म करें। घोल को एक-एक चम्मच करके तेज गर्म तेल में डालें। सुनहरा भूरा रंग और कुरकुरे होने तक भूनें और इसके बाद गर्मागर्म परोसें।

नारियल मगज प्रसाद
सामग्री : चाशनी बनाने के लिए डेढ़ कप चीनी, एक कप पानी, सूखा नारियल अच्छी तरह कसा हुआ डेढ़ कप, मगज (खरबूजे के बीज) आधा कप।
विधि : कसे हुए गोले और खरबूजे के बीज को एक पैन में डाल कर तीन से चार मिनट तक धीमी आंच पर भून लें। चाशनी के लिए चीनी और पानी को एक बर्तन में डाल कर दस मिनट तक पका लें। दो तार की चाशनी बनाएं। इस चाशनी में नारियल और खरबूजे के बीज डाल कर तीन से चार मिनट के लिए मिला लें। अब इस मिश्रण को चिकनाईयुक्त थाली पर अच्छी तरह फैला लें। ठंडा होने के लिए रख दें और बाद में एक समान टुकड़ों में काट लें। 

नारियल और पनीर बर्फी
सामग्री : डेढ़ कप सूखे नारियल का तैयार बुरादा (बाजार में उपलब्ध) या फिर सूखे कसा हुआ नारियल डेढ़ कप (दो चम्मच देसी घी में भुना हुआ), 250 ग्राम पनीर कसा हुआ, आधा कप कंडेंस्ड मिल्क, बादाम, सजावट के लिए।
विधि : कंडेंस्ड मिल्क को एक बर्तन में डाल कर उसमें पनीर और नारियल के चूरे को अच्छी तरह मिला लें। एक स्टील की थाली पर घी लगाएं और मिश्रण को फैला लें। एक सवा घंटे के लिए छोड़ दें। ठंडा होने पर समान टुकड़ों में काट लें। सर्व करते समय चांदी के वर्क के साथ परोसें। काफी कम समय में आप नारियल बर्फी तैयार कर लेंगे। यदि आप कंडेस्ड मिल्क इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं तो दो तार की चाशनी बना कर मिश्रण को उसमें मिला कर ठंडा होने के लिए रख दें। वर्क के साथ परोसें। काफी कम समय में आप नारियल बर्फी तैयार कर लेंगे। यदि आप कंडेस्ड मिल्क इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं तो दो तार की चाशनी बना कर मिश्रण को उसमें मिला कर ठंडा होने के लिए रख दें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आओ गोपाल को भोग लगाएं