DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

योजनाओं के साथ किसानों के ‘दरवाजे’ पहुचेंगे अधिकारी, अनुदान के लंबित मामलों का भी होगा निपटारा


अनुदान के लिए कृषि विभाग का चक्कर लगाते-लगाते आप थक गये हों तो कोई बात नहीं, अब आप चुपचाप बैठ जाइए। सरकारी अधिकारी खुद आपके दरवाजे जाएंगे अनुदानित दर पर सामान देने। कृषि यंत्र या बीज जो भी खरीदना हो सब आपके ‘दरवाजे’ पर ही मिल जाएगा। सरकार ने कृषि विकास उत्सव के साथ कृषि उपादान सह किसान मेला को भी जोड़ दिया है।

प्रखंडों में आयोजित होने वाला कृषि विकास उत्सव दो से शुरू होकर 31 अक्टूबर को समाप्त होगा और एक नवम्बर से जिला मुख्यालयों में शुरू हो जाएगा किसान मेला। विकास उत्सव में अनुदान के पुराने मामले भी निपटाये जाएंगे। मेले में किसानों को प्रशिक्षित करने की भी व्यवस्था होगी। मेला 15 नवम्बर तक चलेगा लेकिन हर जिले में इसकी अवधि दो दिन की ही होगी।

इसके लिए अलग-अलग तिथियां तय कर ली गईं हैं। सरकार ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिया है कि वैज्ञानिकों की सूची के साथ अन्य सूचनाएं बिहार एग्रीकल्चरल मैनेजमेंट एन्ड एक्सटेंशन ट्रेनिंग इंस्टीच्यूट (बामेति) को उपलब्ध करा दें।

कृषि मंत्री रेणु कुमारी ने बताया कि कृषि विकास उत्सव में किसानों की सफलता की कहानियों पर आधारित फिल्में भी दिखाई जाएंगी। इसके लिए किसान जागरूकता रथ बनाया जाएगा जिस पर कृषि विभाग द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं से जुड़ी हर तरह की जानकारी उपलब्ध रहेगी।

वैज्ञानिकों के साथ किसानों का समन्वय बनाने की भी व्यवस्था होगी। किसानों की हर समस्याओं का निराकरण वैज्ञानिक वहीं करेंगे। फसल बीमा, कृषि लोन और पशुपालकों की समस्या के निराकरण भी किये जाएंगे। इसके लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों को वहां उपलब्ध रहने को कहा जाएगा। 
  
एक से पंद्रह नवबर तक चलाये जाने वाले कृषि उपादान सह किसान मेले में बीज, पौधा, रासायनिक और जैविक खाद, कीटनाशी, कृषि यंत्र, पशु आहार और दवा आदि उपलब्ध कराये जाएंगें। मेले में विभिन्न प्रतिष्ठानों के विक्रय केन्द्र खोले जाएंगे। क्रेडिट कार्ड धारियों और विभिन्न योजनाओं के लिए प्राप्त प्रपत्र के आधार पर ही मेले में किसानों को अनुदानित दर पर उपलब्ध सामग्रियां दी जाएंगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:योजनाओं के साथ किसानों के ‘दरवाजे’ पहुचेंगे अधिकारी