DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सेना चला रही है पाक की विदेश नीति

सेना चला रही है पाक की विदेश नीति

पाकिस्तान के मानवाधिकार आयोग की प्रमुख अस्मां जहांगीर ने कहा है कि सेना देश की विदेश नीति चला रही है और महत्वपूर्ण नीतिगत फैसलों में हस्तक्षेप कर रही है क्योंकि वह अब भी देश की सत्ता में बनी हुई है।

जानी मानी वकील और सामाजिक कार्यकर्ता अस्मां ने कहा कि मैं निराशावादी नहीं होना चाहती। उन्होंने बताया कि हम इससे निपट सकते हैं लेकिन हमें न सिर्फ लोकतंत्र की ओर बढ़ने पर जोर देना चाहिए बल्कि लोकतांत्रिक शक्तियों की प्रक्रिया को और प्रगाढ़ बनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सेना अब भी सत्ता में है क्योंकि वह न सिर्फ देश की विदेश नीति को चला रही है बल्कि महत्वपूर्ण नीतिगत फैसलों पर फैसले कर रही है।

अस्मां ने डेमोक्रेसी एंड हयूमन राइटस इन पाकिस्तान ए डेड एंड विषय पर व्याख्यान देते हुए कहा कि पुराने पूर्वी पाकिस्तान (अब बांग्लादेश) या बलूचिस्तान में इन दिनों दिख रही सेना की निर्ममता के अतिरिक्त सेना को देश के बड़े मुद्दों की समझ नहीं है।

पाकिस्तानी दैनिक की रिपोर्ट के अनुसार अस्मां ने कहा कि जहां पाकिस्तान बाह्य सुरक्षा पर अतिरिक्त राशि खर्च कर रहा है वहीं आंतरिक सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए धन नहीं है और पुलिस की दशा बेहद खराब है। आगा खान विश्वविद्यालय में उन्होंने कहा कि खुफिया एजेंसी आईएसआई की छवि में सुधार करने के लिए एक मीडिया प्रकोष्ठ काम कर रहा है। यह प्रकोष्ठ युवा पत्रकारों को सलाह देता है कि वे क्या लिखें और क्या न लिखें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सेना चला रही है पाक की विदेश नीति