DA Image
22 फरवरी, 2020|12:22|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिखरा यूपीए चुनाव में क्या करगा हमारा मुकाबला: नीतीश

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि बिहार में यूपीए बिखर गया है। वह हमारा मुकाबला करने में सक्षम नहीं है। जो लोग चुनाव लड़ने से पहले आपस में लड़ पड़े, वह चुनाव में हमसे क्या लडें़गे।ड्ढr लालू प्रसाद तो इतने कमजोर हो गये हैं कि एकसाथ 28 प्रत्याशियों की घोषणा भी नहीं कर सके। उन्हें न तो मधेपुरा की जनता पर भरोसा था और न ही छपरा के लोगों पर विश्वास है। इसीलिए पाटलिपुत्र से जमीन तलाश रहे हैं। रामविलास पासवान भी इधर-उधर की बातें करने की बजाय ‘घर’ की चिन्ता करें।ड्ढr ड्ढr मुख्यमंत्री सोमवार को प्रदेश जदयू कार्यालय में संवाददाताओं से बात कर रहे थे। नागमणि और नीतीश मिश्रा पर चर्चा चली तो वह बोले- कन्फ्यूज्ड लोगों को राज्यहित में हटा दिया गया है। वरुण गांधी के बयान की निंदा करते मुख्यमंत्री ने उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की हिमायत की। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि पार्टी जार्ज फर्नाडीस का पूरा सम्मान करती है और खराब स्वास्थ्य की वजह से ही उन्हें टिकट नहीं देने का निर्णय किया गया। वैसे वह खुद कोई भी निर्णय लेने के लिए स्वतंत्र हैं। जहां तक बात दिग्विजय सिंह के चुनाव लड़ने की है तो उन्होंने कभी भी पार्टी में ऐसी कोई इच्छा नहीं जतायी। नागमणि और नीतीश मिश्र ने ‘अवसर’ दिया तो उनके खिलाफ पार्टी भी कार्रवाई करेगी। जदयू द्वारा टिकटों के वितरण में सोशल इंजीनियरिंग की अनदेखी के सवाल पर उन्होंने कहा कि निजी स्वार्थ के मुद्दे उठाना ठीक नहीं है।ं

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: बिखरा यूपीए चुनाव में क्या करगा हमारा मुकाबला: नीतीश