DA Image
24 जनवरी, 2020|7:35|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

करुणानिधि के मामले में आदेश सुरक्षित, भगवान राम के खिलाफ अभद्र टिप्पणी का मामला

तामिलनाडु के मुख्यमंत्री के करुणानिधि के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज करने को लेकर दायर याचिका पर सुनवाई पूरी करने के बाद हाइकोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है। करुणानिधि के खिलाफ वकील राम सुभग सिंह ने याचिका दायर की है। प्रार्थी ने करुणानिधि के उस बयान को अमर्यादित एवं समाज को तोड़ने वाला बताया है जिसमें उन्होंने भगवान राम के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी की थी।

प्रार्थी ने कहा है कि यह बयान धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाला है। करुणानिधि का बयान अखबारों में प्रकाशित हुआ था। इसके बाद वह उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने थाना गए थे, लेकिन वहां प्राथमिकी दर्ज करने से इनकार कर दिया गया। इसकी शिकायत उन्होंने एसएसपी एवं डीजीपी से भी की थी, लेकिन प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई। इसके बाद उन्होंने हाइकोर्ट में क्रिमिनल रिट दायर की।

अदालत से करुणानिधि के खिलाफ समाज के बांटने के आरोप में मामला दर्ज करने का आग्रह किया गया है। 12 अगस्त को मामले की सुनवाई के बाद जस्टिस आरआर प्रसाद की अदालत ने फैसला सुरक्षित रख लिया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:करुणानिधि के मामले में आदेश सुरक्षित