DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एचटीएमएल

एचटीएमएल यानी हाइपर टेक्सट मार्क अप लैंग्वेज, कंप्यूटर लैंग्वेज है, जो मुख्यत: इंटरनेट में पोस्ट की जाने वाली फाइलों में प्रयुक्त होती है। इन फाइलों को वेब ब्राउजर के माध्यम से देखा जा सकता है। वेब पेज के टेक्सट, ग्राफिक्स और डिजइन एलीमेंट का एक कोड होता है, जो कि वेब ब्राउजर को जनकारी देता है कि फाइल को कैसे दिखाया जाए।

क्यों पड़ी जरूरत : प्रत्येक कंप्यूटर एक ऑपरेटिंग सिस्टम को सपोर्ट करता है, किसी के सिस्टम में विंडोज इंस्टाल होता है, तो किसी में लाइनेक्स या यूनिक्स। प्रत्येक ऑपरेटिंग सिस्टम की प्रोग्रामिंग अलग होती है और फंक्शन अलहदा। इंटरनेट के शुरुआती दौर में ऑपरेटिंग सिस्टम का अलग-अलग होना एक बड़ी समस्या थी। अलग ऑपरेटिंग सिस्टम होने के कारण एक ऑपरेटिंग सिस्टम को दूसरे से कम्युनिकेशन के लिए दिक्कत आने लगीं। इस दौर में ऐसी लैंग्वेज की शिद्दत से जरूरत महसूस की जाने लगी, जो सभी ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए समान हो। ऐसे में इन्फॉरमेशन के आदान-प्रदान के लिए सर्वमान्य लैंग्वेज एचटीएमएल (हाइपर टेक्सट मार्क अप लैंग्वेज) आई। इसकी प्रोग्रामिंग और फंक्शन ऐसा बनाया गया, जो ब्राउजर को समझ आए।

फायदे : इन फाइलों को पहचानना आसान होता है, क्योंकि इन फाइलों पर फाइल  एचटीएमएल या एचटीएम लिखा होता है। पेज के कंटेंट के अलावा एचटीएमएल फाइल लेआउट और फॉर्मेटिंग की जानकारी भी प्रदान करता है। एचटीएमएल फाइल की खासियत यह होती है कि इनके बनने के बाद इन फाइलों को आसानी से अपडेट किया जा सकता है। एचटीएमएल फाइल को ई-मेल के माध्यम से भेज जा सकता है।    

(पाठकों की मांग पर)

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एचटीएमएल