DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारतीय अनुभव निराशाजनक रहा: बुकानन

भारतीय अनुभव निराशाजनक रहा: बुकानन

जॉन बुकानन ने कोलकाता नाइट राइडर्स कोच के पद से हटाए जाने को बहुत निराशाजनक और हैरान करने वाला बताते हुए कहा कि टीम को संवारने के लिए उनका फ्रेंचाइजी मालिक शाहरुख खान के साथ पांच साल का समझोता हुआ था।

आस्ट्रेलिया के पूर्व कोच बुकानन आईपीएल के दोनों सत्रों में केकेआर को अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित नहीं करपाए। दूसरे सत्र में तो यह टीम सबसे निचले पायदान पर रही और बहुकप्तान सिद्धांत जैसे कई विवादों से भी घिरी रही।

बुकानन ने कहा कि हम पांच साल में बेहतरीन टीम तैयार करने की कोशिश कर रहे थे लेकिन फ्रेंचाइजी मालिक शाहरुख खान ने अपनी दिशा बदल ली और मुझसे कहा कि आपकी अब कोई जरूरत नहीं है। यह मेरे लिए निराशाजनक और हैरान करने वाला था।

बुकानन का मानना है कि आगामी सत्र के लिए कप्तान बनाए गए सौरव गांगुली टवेंटी 20 के इस फटाफट खेल में फिट नहीं बैठते जिसके कारण वे नजदीकी मैच गंवा देते थे। उन्होंने कहा कि गांगुली आइकन खिलाड़ी और टीम के कप्तान थे। मैंने उनसे कहा कि मुझे नहीं लगता कि वह इस फटाफट खेल में फिट नहीं बैठते हैं। हम नौ मैचों में आखिरी ओवर तक खेले लेकिन सब हार गए और पांच बार आखिरी गेंद तक पहुंचे लेकिन हर बार हारे।

आस्ट्रेलियाई पूर्व कोच बुकानन एशेज सीरीज से ठीक पहले इंग्लैंड टीम के सलाहकार पद को कबूल करके विवादों में घिर गए थे। महान गेंदबाज शेन वार्न के साथ कड़वे रिश्तों के सवाल पर बुकानन ने कहा कि वार्न का मुख्य उद्देश्य खबरों में रहना है। उन्होंने कहा कि मुझे ऐसा लगता है। वार्न के बारे में यह बात खुली किताब जैसी है कि वह सबका ध्यान आकर्षित करना चाहते हैं और ऐसा करने में सफल भी रहते हैं।

आस्ट्रेलियाई कोच के रूप में अपने को जबर्दस्त सफल मानने वाले बुकानन ने कहा कि मैं इस पद पर आठ साल तक रहा और इसी दौरान टीम ने 2007 वर्ल्ड कप जीता । मैंने इसकी कभी योजना नहीं बनाई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारतीय अनुभव निराशाजनक रहा: बुकानन