DA Image
29 मार्च, 2020|5:45|IST

अगली स्टोरी

अस्पताल से शिशु का अपहरण

स्वामी दयानंद अस्पताल से दिनदहाड़े 15 दिन के बच्चे का अपहरण कर लिया गया। मां अपने बेटे को लेकर इलाज के लिए सास के साथ अस्पताल गई थी। अपहरण की इस वारदात के बाद अस्पताल में अफरा तफरी का माहौल बन गया और जो मांए अपने छोटे बच्चों को लेकर वहां पहुंची थी उनमें भी दहशत फैल गई। इस संबंध में मानसरोवर पार्क पुलिस का कहना है कि इस अपहरण के इस मामले में एक महिला की तलाश जारी है।

लोनी हाजीपुर बेहटा की रहने वाली चित्र अपनी सास संतोष के साथ 15 दिन के बेटे को लेकर सुबह करीब साढ़े 11 बजे स्वामी दयानंद अस्पताल पहुंची थी। उसकी सास पर्ची बनवाने के लिए लाइन में खड़ी थी। चित्र बेटे को लेकर साइड में खड़ी हो गई। उसी दौरान बच्चे ने शौच कर दिया। साफ करने के लिए चित्र उसे एक महिला को थमा कर पानी लेने के लिए चली गई। जैसे ही वह पानी लेकर लौटी तो देखा कि वह महिला वहां नहीं थी और उसके बच्च भी गायब था। उसने इस बात की जानकारी सास को दी और उसके उसके बाद पुलिस को सूचना दी गई।

सूचना मिलने पर मानसरोवर पार्क थाने के पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। छानबीन करने पर पता चला जब चित्र अपनी सास के साथ अस्पताल के लिए आ रही थी तो रास्ते में पाइप लाइन के पास आटो में एक महिला बैठी थी। उसने खुद को नर्स बताया और कहा कि वह स्वामी दयानंद अस्पताल में काम करती है। किसी भी तरह की कोई मदद चाहिए तो उसे बता देना वह काम करवा देगी।

पुलिस अधिकारियों का कहना है संभावना है महिला ने बच्चे का अपहरण या तो बेचने के लिए किया होगा या फिर उसके संतान नहीं होगी। इस संबंध में मामला दर्ज कर उसकी तलाश की जा रही है।

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:अस्पताल से शिशु का अपहरण