DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गुरुजी की संपत्ति की सीबीआई जांच के लिए याचिका

राज्य के पूर्व सीएम शिबू सोरेन की भी संपत्ति की सीबीआई जांच कराने के लिए हाइकोर्ट में याचिका दायर की गई है। शमीम अख्तर ने हस्तक्षेप याचिका दायर कर शिबू एवं उनके निजी सचिव मनोहर लाल पॉल की संपत्ति की जांच कराने का आग्रह किया है।

प्रार्थी का कहना है कि सोरेन ने अपनी पत्नी, बहू और अन्य रिश्तेदारों के माध्यम से कई कंपनियों में 50 करोड़ से अधिक का निवेश किया है। उनकी पत्नी गालूडीह इंस प्राइवेट लिमिटेड की पार्टनर है। लेकिन वर्ष 2009 के चुनाव में उनके पुत्र दुर्गा उरांव ने पत्नी की संपत्ति का जिक्र नहीं किया था। वर्ष 2004 एवं 09 के बीच संपत्ति में काफी अंतर है। शिबू सोरेन पर बोकारो में 37.7 एकड़ जमीन खरीदने का भी आरोप है। इसका मार्केट वैल्यू 66.75 लाख रुपये है।

जमीन शिबू ने अपनी पत्नी के नाम राजेंद्र कनोडिया से खरीदी है। बोकारो में डेंटल रिसर्च ट्रस्ट में भी सांसद कोष का दस लाख रुपये खर्च किया है। जो कि नियमों का उल्लंघन है। क्योंकि इस ट्रस्ट के चेयरमैन गुरुजी खुद हैं। शिबू सोरेन पर दामोदर कोल प्रा लि, छोटानागपुर एलॉय, बेकोन स्टील एवं गालूडीह इंस प्राइवेट लिमिटेड कंपनियों में अपने रिश्तेदारों के माध्यम निवेश करने का आरोप है।

मनोहर लाल पॉल पर भी पुत्र एवं पत्नी के नाम करोड़ों निवेश करने का आरोप है। पॉल पर कई कंपनियां खरीदने का भी आरोप है। इसके अलावा देश के कई शहरों में बिल्डिंग, फ्लैट खरीदने की बात कही गई है, जिसकी कीमत करोड़ों में है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गुरुजी की संपत्ति की सीबीआई जांच के लिए याचिका