DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मूडी हुए बादल, छाए मगर बिना बरसे ही चले गए

पूरे शहर में कहीं तो बारिश हुई तो कहीं सूखा पड़ा रहा। कुछ सेक्टरों में काले बादल तो छाए मगर बिना बरसे ही चले गए। बारिश जहां मेहरबान हुई वहां के लोगों ने राहत की सांस ली। पिछले काफी दिनों से मौसम में उमस व गर्मी बढ़ती जा रही थी। मंगलवार को हुई बादल भले ही कुछ देर के लिए बरसे लेकिन इस बारिश ने मौसम के साथ ही लोगों का मूड भी खुशगवार कर दिया।

मौसम वैज्ञानी अशोक कुमार ने बताया कि 20 अगस्त तक नॉर्थ वेस्ट इंडियन रीजन में सिस्टम बनने की पूरी संभावना है जिसके चलते 14 अगस्त तक दिल्ली व एनसीआर में कभी भी कहीं भी आइसोलेटिड रेन (छिटपुट बारिश) होने की आशंका जताई जा रही है।

इसके अलावा 15, 16 व 17 अगस्त को भी हल्की बारिश हो सकती है। उन्होंने बताया कि मंगलवार दोपहर अचानक हुई बारिश के बाद गर्मी से कुछ राहत मिलने के आसार नजर आ रहे हैं, साथ ही अगस्त के महीने में अधिकतम तापमान के कम रहने की उम्मीद की जा रही है। मंगलवार को अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस रहा।

मंगलवार को मात्र 15-20 मिनट हुई बारिश से ही शहर में जगह-जगह पानी भर गया। शहर की शान कहलाने वाले सेक्टर-18 मार्केट में भी कई जगह पानी भरने के साथ ही कीचड़ व गंदगी की स्थिति हो गई। हालत ये थी कि अट्टा पीर के पास इकट्ठा हुए बारिश के पानी में भीख मांगने और फुटपाथ पर रहने वाले कुछ छोटे-छोटे नंग-धड़ंग बच्चे उस गंदे पानी में नहा रहे थे।

बारिश से इकट्ठे हुए गंदे पानी से फैलने वाली बीमारियों से बेखबर वे बच्चे उसी गंदे पानी में खेल रहे थे। इसके अलावा रजनीगंधा चौराहे के पास, सेक्टर-15 में, सेक्टर-12, 22 में , सेक्टर-63 सहित अन्य कई सेक्टरों में बहुत सी जगहों पर पानी जमा हो गया।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कहीं बरसे तो कहीं नहीं बरसे बदरा