DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

म्यांमार : विपक्षी नेता सूकी को 18 माह की कैद

म्यांमार : विपक्षी नेता सूकी को 18 माह की कैद

सैन्य शासित म्यांमार की एक अदालत ने मंगलवार को विपक्ष की नेता आंग सान सूकी को नजरबंदी संबंधी आतंरिक सुरक्षा कानून के उल्लंघन का दोषी करार देते हुए 18 महीने की कैद की सजा सुनाई।

अदालत ने शांति के लिए नोबल पुरस्कार प्राप्त सूकी को तीन वर्ष जेल की सजा सुनाई थी, लेकिन सैनिक सरकार के आदेश पर इसे तुरंत कम करके 18 महीने कर दिया गया। सरकार ने कहा कि वह यह सजा राजधानी यांगून स्थित अपने आवास पर भी काट सकती हैं।

सूकी के खिलाफ नजरबंदी की शर्तों का उल्लंघन करके अपने घर पर अमेरिकी नागरिक जॉन एट्टव को दो दिन रहने देने का मामला चल रहा था।

अदालत ने एक समानांतर सुनवाई में एट्टव को सात वर्ष की सश्रम कारावास की सजा सुनाई है। एट्टव को आव्रजन कानूनों का उल्लंघन करने तथा तैराकी निषेध क्षेत्र में तैराकी करने का दोषी पाया गया है। एट्टव बिना आमंत्रण के सूकी घर के पास स्थित झील में तैरकर वहां पहुंचा था। यह सुनवाई यांगून के इंसेन जेल में हुई। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक अदालत परिसर के अंदर और बाहर सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए थे। इस दौरान करीब दो हजार सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए थे।

आज के सरकारी समाचार पत्रों में प्रमुखता से प्रकाशित खबरों में सूकी के समर्थकों को इस सुनवाई में बाधा न डालने की चेतावनी दी गई थी तथा बाहरी ताकतों को आगाह किया गया था कि वे देश के अंदरूनी मामलों में हस्तक्षेप न करे। ‘न्यू लाइट’ समाचार पत्र ने कहा कि लोकतंत्र का समर्थन करने वाले लोग हिंसा और विरोध प्रदर्शन होते नहीं देखना चाहते। यह लोकतंत्र की स्थापना के उनके लक्ष्यों को नुकसान पहुंचाता है। देश के अंदर और बाहर स्थित सरकार विरोधी समूहों और अमेरिका ने सैन्य सरकार पर सूकी को चुनाव में शामिल होने से रोकने का आरोप लगाया है।


पत्र के मुताबिक स्वीकृत संविधान और जल्द ही आने वाला निर्वाचन कानून यह निर्धारित करेगा कि कौन चुनाव लड़ेगा और कौन नहीं लड़ेगा। आलोचकों का मानना है कि सैन्य सरकार ने सूकी को अगले वर्ष होने वाले आम चुनाव से दूर रखने के लिए उनके खिलाफ यह मनगढंत मामला बनाया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:म्यांमार : विपक्षी नेता सूकी को 18 माह की कैद