DA Image
22 फरवरी, 2020|10:17|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुशर्रफ पर केस दर्ज, हो सकता है स्थायी निर्वासन

मुशर्रफ पर केस दर्ज, हो सकता है स्थायी निर्वासन

पाकिस्तान के सैन्य तानाशाह रहे परवेज मुशर्रफ के खिलाफ देश के शीर्ष न्यायाधीशों को अवैध रूप से बंधक बनाने के आरोप में आपराधिक मामला दर्ज कराया गया है, जिसके अंतर्गत दोष साबित होने पर उन्हें कारावास की सजा हो सकती है अथवा स्थाई निर्वासन में रहना पड़ सकता है।

इस्लामाबाद पुलिस ने सोमवार देर रात पूर्व राष्ट्रपति जनरल मुशर्रफ के खिलाफ तीन नवंबर 2007 में आपातकाल लागू करने के बाद जजों को बंधक बनाने के आरोप वाली प्राथमिकी दर्ज कराई गई। यह प्राथमिकी शहर के अतिरिक्त सत्र न्यायालय के आदेश के बाद दर्ज कराई गई है।

चौधरी मोहम्मद असलम गुमान की याचिका पर अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश मोहम्मद अकमाल खान ने पुसिल को प्राथमिकी दर्ज करने के आदेश दिए थे।  इस्लामाबाद के पुलिस महानिरक्षक सैय्यद कलीम इमाम से संपर्क करने पर उन्होंने इसकी पुष्टि की कि प्राथमिकी दर्ज हो गई है।

प्राथमिकी में कहा गया है कि जनरल मुशर्रफ एवं अन्य ने पाकिस्तान सुप्रीम कोर्ट के जजों और उनके परिजनों को उनके आवास पर नजरबंद कर दिया था। यहां तक कि उनके बच्चों को स्कूल जाने और इम्तिहान में बैठने की इजाजत तक नहीं दी गई। इससे पूर्व सुप्रीम कोर्ट ने जनरल मुशर्रफ द्वारा तीन नवम्बर 2007 को घोषित आपातकाल एवं उस दौरान उठाए गए कदमों को अवैध एवं असंवैधानिक करार दिया था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:मुशर्रफ पर केस दर्ज, हो सकता है स्थायी निर्वासन