DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाक में बढ़ती अलोकप्रियता से यूएस चिंतित

पाक में बढ़ती अलोकप्रियता से यूएस चिंतित

अमेरिका के ओबामा प्रशासन ने पाकिस्तान में अपने देश की बढ़ती अलोकप्रियता को चिंता का विषय बताया है। गैलप इंटरनेशनल की पाकिस्तान इकाई द्वारा हाल में किये गए सर्वेक्षण के बाद अमेरिकी सरकार ने यह प्रतिक्रिया दी है। सर्वेक्षण में पाया गया था कि 59 प्रतिशत पाकिस्तानी नागरिक अमेरिका को अपने मुल्क के लिये सबसे बड़ा खतरा मानते हैं।

पाकिस्तानी लोगों ने अमेरिका के खिलाफ भारत और यहां तक कि तालिबान के मुकाबले कहीं ज्यादा वोट दिये। विदेश मंत्रालय के उप प्रवक्ता रॉबर्ट वुड ने संवाददाताओं से कहा मैंने इस सर्वेक्षण के नतीजे देखे हैं और वे बेशक काफी चिंताजनक हैं। निश्चित रूप से हमें काफी काम करना होगा।

पाकिस्तान के लोगों ने ऐसे वक्त पर अमेरिका के खिलाफ राय जाहिर की है, जब अमेरिका उनके देश में सबसे ज्यादा मानवीय मदद और विकास संबंधी सहायता दे रहा है। वुड ने कहा हमें पाकिस्तान तथा दुनिया में अन्य देशों के लोगों से अपनी बात और बेहतर ढंग से कहनी होगी।

उप प्रवक्ता ने कहा कि अमेरिका मूल्यों के प्रति संकल्पबद्ध है। उन्होंने कहा हम इन मूल्यों को दुनिया भर में बढ़ावा देते हैं। हम पाकिस्तान के लोगों की मदद की कोशिश के तहत उनके मुल्क को अर्थव्यवस्था तथा सुरक्षा व्यवस्था में सुधार में सहयोग देना चाहते हैं।

वुड ने कहा कि ओबामा प्रशासन ने दुनिया को बेहतर जगह बनाने की कोशिश करते हुए न सिर्फ मुस्लिम जगत बल्कि दुनिया के अन्य हिस्सों की चिंताओं का समाधान करने के लिये गंभीरता से काफी काम किया है। उन्होंने कहा हम ऐसा करना जारी रखेंगे। वुड ने समाज के सभी हिस्सों से जुड़े नागरिकों को साथ लाने के संकल्प को मूर्त रूप देने के विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन के प्रयासों की सराहना की।

उन्होंने कहा अगर आप हमारी सहायता के आंकड़ों को देखें तो वे आपको काफी ज्यादा नजर आएंगे। अफगानिस्तान और दुनिया के अन्य स्थानों पर सकारात्मक कोशिश को देखा जाए तो अमेरिका का रिकॉर्ड काफी अच्छा है। वुड ने कहा हम अपनी बात को बेहतर ढंग से कहने की कोशिश जारी रखेंगे। इसमें कोई शक नहीं कि हमें काम को बेहतर तरीके से करने की जरूरत है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पाक में बढ़ती अलोकप्रियता से यूएस चिंतित