DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दो सौ परिवारों को सूली पर चढ़ा गया अफसर

वाहवाही लूटने के खातिर नगर निगम के एक आयुक्त 210 गरीब परिवारों को सूली पर चढ़ा गए। इनमें छह की अब तक मौत हो चुकी है। बाकी पानी, बिजली जैसी मूलभूत सुविधाओं के अभाव में रोज तिलतिल मर रहे हैं। जवाहर लाल नेहरू नेशनल अर्बन रिन्यूवल मिशन के तहत डबुआ कालोनी में बनाए आशियाना की यह दास्ता है। जहां मूलभूत सुविधाओं का बंदोबस्त किए बिना झुग्गी झोपड़ी से उठाकर निगम ने इनको यहां बसा दिया।

अब पानी, बिजली के बिना गर्मी में डायरिया, चर्म रोग, वायरल आदि बीमारियों की गिरफ्त में यह आ रहे हैं। निगम अफसरों से लेकर शहरी निकाय मंत्री से सुविधा मुहैया करवाने वास्ते मिल चुके हैं। कोई समाधान अभी तक नहीं हुआ। शहर की 63 स्लम बस्तियों में रह रहे गरीबों को पक्का मकान देने की योजना केंद्र सरकार ने शुरू की है। इसके तहत डबुआ कालोनी व बापू नगर में 3248 फ्लेट बनाए जा रहे हैं। गरीबों को सस्ती दरों में फ्लेट देने की योजना है। इसके लिए बायोमेट्रिक सर्वे हो चुका है। आशियाना प्रोजेक्ट में पानी, बिजली, सफाई, सीवरेज आदि मूलभूत सुविधा मुहैया करवाना निगम की जिम्मेदारी है।

खास बात है कि इनमें कोई सुविधा पूरी तरह फ्लेट में विधिवत रूप से अभी तक शुरू नहीं हो पाई है। सीवरेज लाइन भी अभी नहीं जोड़ी गई है। इससे पहले ही पूर्व नगर निगमायुक्त डबुआ कालोनी में 210 परिवारों को फ्लेट अलॉट कर गए। लोकसभा चुनाव से पहले अलाटमेंट की प्रक्रिया पूरी की गई। यहां 1968 फ्लेट बनने हैं। बाकी फ्लेट अभी तैयार नहीं हैं। काम पूरा न होने से पहले 210 परिवारों को सुविधा मुहैया करवाए बिना अलाटमेंट सवाल के घेरे में है।

आरोप है वाहवाही लूटने की खातिर तत्तकालीन निगमायुक्त इन परिवारों को सूली पर चढ़ा दिया। पानी, बिजली के अभाव में बीमारियों की गिरफ्त में आए करीब छह लोग जान गवां चुके हैं। रविवार को हुई जवान मौत से आशियाना के लोग सदमे में हैं। बिजली के बिना रातभार सो नहीं पाते। पानी के लिए तरस रहे हैं। सीवरेज व्यवस्था दुरुस्त न होने से चारों तरफ गंदगी का आलम है। झुग्गी टूटने के बाद अभी कहीं जाने की स्थिति में भी नहीं हैं। निगमायुक्त सीआर राणा का कहना है कि समूची सुविधा का बंदोबस्त करने के बाद अब बाकी फ्लेट का अलाटमेंट होगा। अलॉट फ्लेटस में बिजली, पानी, सीवरेज की सुविधा की जा रही है। बायोमेट्रिक सर्वे रिपोर्ट की क्रास चेकिंग की जाएगी। योग्य लोगों को फ्लेट अलॉट किए जाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दो सौ परिवारों को सूली पर चढ़ा गया अफसर