DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महानायक को भी था व्याकरण का खौंफ

महानायक को भी था व्याकरण का खौंफ

अमेरिका और ब्रिटेन समेत विश्व भर में भारतीय सिनेमा को एक अलग मुकाम दिलाने वाले बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन को भी एक समय में अंग्रेजी भाषा के भूत ने खूब सताया। अंग्रेजी भाषा की व्याकरण के डर के कारण ही अमिताभ ने कॉलेज में बीए ऑनर्स अंग्रेजी में दाखिला लेना अस्वीकार कर दिया था। अमिताभ ने अपने ब्लॉग में लिखा है विद्यालय की पढाई के बाद मेरे पास कोई उद्देश्य नहीं था, लेकिन सामाजिक परंपरा के तौर पर मैंने दिल्ली विश्वविद्यालय के सेंट स्टीफंन कॉलेज में भर्ती के लिए आवेदन दे दिया।

उन्होंने लिखा कि मेरे कुछ साथियों ने विज्ञान विषय के लिए आवेदन किया था। मैंने भी उनकी देखादेखी ऐसा ही किया, हालांकि मुझे यह भी नहीं पता था कि यह मुझे कहाँ ले जाएगा। अमिताभ ने लिखा है मैं जिस कोर्स में दाखिला लेना चाहता था, उसके लिए मैं योग्य नहीं था और इसलिए मुझे सेंट स्टीफंन में दाखिला नहीं मिल पाया।

अमिताभ ने लिखा साक्षात्कार :वाइवा: के दौरान प्राचार्य ने मुझसे कहा कि मेरे लिए बीए :ऑनर्स: अंग्रेजी में दाखिला लेना सही रहेगा, लेकिन एक युवा होने के नाते मेरे अड़ियलपना और अंग्रेजी की व्याकरण में कमजोर होने के डर के कारण मैंने वह प्रस्ताव ठुकरा दिया। उन्होंने लिखा, इसके बाद मैंने कुछ दिन ऐसे ही यहाँ—वहाँ घूमते हुए बिताए। मेरे माता—पिता मेरी ऐसी दुर्दशा नहीं देख सके और मुझे चंडीगढ़ के एक सरकारी कॉलेज में दाखिला दिला दिया।

अमिताभ ने लिखा है चंडीगढ़ में मैंने एक पखवाड़ा मानसून की बारिश में भीगते हुए आइसक्रीम खाकर यूं ही बिताए। तब भी मेरे पास कोई उद्देश्य नहीं था। ऐसे में मेरे माता—पिता ने कोशिश करके मुझे किरोड़ीमल कॉलेज में दाखिला दिला दिया और मैं वापस दिल्ली आ गया। उन्होंने लिखा कि मैं केएमसी में वापस आ गया और यहाँ मैंने बीएससी :सामान्य: में दाखिला ले लिया। यही मैं चाहता था। एक ऐसा कोर्स जिसके बारे में मैं जानता था कि इसका कोई उद्देश्य नहीं है, लेकिन मुझे कुछ और नहीं मिल सकता था, इसलिए मैंने उसमें दाखिला ले लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:महानायक को भी था व्याकरण का खौंफ