DA Image
25 फरवरी, 2020|5:36|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार में प्रभावी कानून-व्यवस्था से अपराधों में कमी

बिहार में अपराध मुक्त समाज का निर्माण करने की दिशा में किए गए राज्य सरकार के प्रयासों के नतीजे अब सामने आने लगे हैं। राज्य में प्रभावी कानून एवं व्यवस्था से अपराधों में लगातार कमी आ रही है जिससे साम्प्रदायिक एवं जातीय तनाव से मुक्त समाज की कल्पना साकार होती नजर आ रही है।

राज्य सरकार की प्राथमिकता सूची में अपराध मुक्त समाज का निर्माण सबसे ऊपर है। उसके अथक प्रयासों का ही यह परिणाम है कि लोग बेखौफ होकर सपरिवार अपने घरों से निकलकर आवश्यकतानुसार अपना काम कर रहे हैं और कहीं भी अब भय का माहौल नहीं रह गया है।

राज्य सरकार की अपराधों पर नियंत्रण करने की पहल का ही नतीजा है कि अब पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के तेवर भी बदल गए हैं और दुर्दांत या नए अपराधियों सभी के खिलाफ बिना भेदभाव के सख्त कार्रवाई की जा रही है।

गृह विभाग के आधिकारिक सूत्रों के अनुसार फिरौती के लिए अपहरण की घटनाओं पर प्रभावी अंकुश लगाना राज्य सरकार की प्राथमिकता है। इसी का नतीजा है कि 2004 में जहां फिरौती के लिए अपहरण के 411 मामले दर्ज किए गए थे, वहां 2005 में यह मामले घटकर 251 रह गए गए। इसके बाद से हर साल फिरौती के लिए अपहरण की घटनाओं में निरन्तर कमी आती गई। वर्ष 2006 में 194, 2007 में 89, 2008 में 66 और इस साल मई माह तक केवल 30 मामले सामने आए।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:बिहार में प्रभावी कानून-व्यवस्था से अपराधों में कमी