DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाकिस्तान विदेश सेवा में पहले हिंदू का चयन

पाकिस्तान विदेश सेवा में पहले हिंदू का चयन

पाकिस्तान विदेश सेवा में शामिल होने वाले पहले हिंदू अधिकारी ज्ञानचंद ने कहा है कि वह देश की छवि सही मायने में सहनशील और समान अवसर मुहैया कराने वाले समाज के रूप पेश करने का हर संभव प्रयास करेंगे।

ज्ञानचंद का सेंट्रल सुपीरियर सर्विसेज की परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद विदेश सेवा के लिए चयन किया गया है। उन्होंने एक टेलीविजन चैनल से यह बात कही है। दक्षिणी सिंध प्रांत के थारपकड़ के निवासी ज्ञानचंद ने कहा कि विदेश सेवा के लिए उनके चयन से अल्पसंख्यक समुदाय में यह संदेश गया है कि पाकिस्तान में उनके लिए भी समान अवसर उपलब्ध हैं। पाकिस्तान की कुल आबाद में दो प्रतिशत से भी कम हिंदू हैं। सिंध प्रांत में इस समुदाय की आबादी ज्यादा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पाकिस्तान विदेश सेवा में पहले हिंदू का चयन