DA Image
20 जनवरी, 2020|11:53|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नहीं सुधर रही है जिले में अम्बेडकर गांवों की स्थिति

मेरठ जिले की अजीब दास्तां है। जिला सूखाग्रस्त क्षेत्र घोषित हो चुका है। वहीं जिले के कुछ अम्बेडकर गांव में जलभराव की स्थिति है। है न अजीब दास्तां। शनिवार को डीएम के स्तर पर अम्बेडकर गांवों को लेकर हुई विशेष समीक्षा बैठक में यह रहस्य खुला। डीएम ने खुद माना है कि जिले में पूर्व में चयनित कई अम्बेडकर गांवों में अभी भी कई कमियां है। उन्होंने अम्बेडकर गांवों की समस्याओं को हल करने के लिए अम्बेडकर गांव के नोडल अधिकारियों को 10 और 11 अगस्त को ब्लाक में समीक्षा करने को कहा है।

डीएम की अध्यक्षता में शनिवार को अम्बेडकर गांवों की समस्याओं को लेकर समीक्षा की गई। बैठक में अधिकारियों ने बताया कि अम्बेडकर गांवों में कई तरह की समस्यायें पाई गई है। मवाना ब्लाक अंतर्गत अकबरपुर सादात में जलभराव की भी रिपोर्ट नोडल अधिकारी ने दी है। डीएम ने इस पर आश्चर्य व्यक्त किया। इसके बाद उन्होंने नोडल अधिकारियों को सप्ताह में दो दिन अम्बेडकर गांवों के दौरे पर जाने का निर्देश दिया। इसके बाद डीएम ने कहा कि यदि अम्बेडकर गांवों में किसी फर्जी कार्य की रिपोर्ट दी गई तो संबंधित विभाग के खिलाफ एफआईआर दर्ज करायेंगे। बैठक में सीडीओ, एडीएम, एसडीएम आदि शामिल थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:‘जिले में सूखा, अम्बेडकर गांव में जलभराव’