DA Image
29 जनवरी, 2020|5:09|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कांग्रेस का ‘हाथ’ आम आदमी के गिरेबां और जेब तक पहुंचा : भाजपा

कांग्रेस का हाथ आम आदमी के साथ नहीं रहा बल्कि वह उनके गिरेबां और जेब तक पहुंच गया है। महंगाई का आलम यह है कि आम-आलू एक रेट पर बिक रहे हैं। दाल की तो पूछिए ही मत! अब तो चाय में चीनी कितनी चम्मच डालें, सोचना पड़ता है। प्रधानमंत्री डा. मनमोहन सिंह ने सौ दिन में महंगाई काबू में करने की घोषणा की थी। यह समय निकल गया।

केन्द्र की कांग्रेसनीत सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ भाजपा अब चुप नहीं बैठेगी। महंगाई के खिलाफ जनाक्रोश को स्वर देने के लिए उसने 17 अगस्त को देश भर के जिला मुख्यालयों पर धरना-प्रदर्शन का निर्णय लिया है। यह जानकारी रविवार को यहां भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष राधामोहन सिंह ने दी। उन्होंने कहा कि इसी क्रम में पटना समेत सूबे के सभी जिला मुख्यालयों पर पार्टी कार्यकर्ता जोरदार धरना-प्रदर्शन करेंगे।

श्री सिंह ने कहा कि वायदा कारोबार जैसी कांग्रेस की गलत नीतियों के कारण जरूरी वस्तुओं का कृत्रिम अभाव पैदा हो रहा है और लोगों को ऊंची कीमत पर सामान खरीदना पड़ रहा है। भीषण महंगाई से जूझ रही जनता को किसी तरह की राहत पहुंचाने की जगह प्रधानमंत्री बयान दे रहे हैं कि महंगाई अभी और बढ़ेगी। यानी लोगों को अभी और रोना पड़ेगा। इस तरह के बयानों से जनता का दिल बैठ रहा है। केन्द्रीय कृषि मंत्री शरद पवार बोलते हैं कि चीनी की पैदावार कम हुई है और उसके बाद यह तीन रुपए किलो महंगी हो जाती है। इससे साफ है कि कहीं न नहीं ‘ऊपर’ के स्तर पर मिलीभगत से ही महंगाई बढ़ रही है। प्रेस कांफ्रेंस में प्रदेश प्रवक्ता विनोद नारायण झा भी मौजूद थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:कांग्रेस का ‘हाथ’ आम आदमी के जेब तक