DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

धमकी से डर इंग्लैंड वर्ल्ड चैंपियनशिप से हटा

धमकी से डर इंग्लैंड वर्ल्ड चैंपियनशिप से हटा

लश्कर ए तयैब्बा की धमकी के कारण इंग्लैंड सोमवार से शुरू होने वाली वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप से हट गया है। बैडमिंटन इंग्लैंड मुख्य कार्यकारी एड्रियन क्रिस्टी ने चैंपियनशिप शुरू होने से 24 घंटे पहले कहा कि टूर्नामेंट से हटने का फैसला विदेश मंत्रालय और ब्रिटिश उच्चायोग की सलाह पर लिया गया।

क्रिस्टी ने कहा कि यह बहुत कड़ा फैसला था जिसे हम हल्के से नहीं ले सकते थे। ओलंपिक खेलों के बाद यह वर्ल्ड की सबसे प्रतिष्ठित चैंपियनशिप है लेकिन हम इस अस्थिर माहौल में अपने खिलाड़ियों, कोच और स्टाफ की सुरक्षा का जोखिम लेने को तैयार नहीं थे। 

इंग्लैंड की टीम जिसमें ओलंपिक रजत पदक विजेता नाथन राबर्टसन भी शामिल है, तुरंत ही स्वदेश रवाना हो जाएगी। क्रिस्टी ने कहा कि बीडब्ल्यूएफ और आयोजन समिति ने धमकी के बाद की चिंताओं पर जितनी जल्दी प्रतिक्रिया की उससे हम उनके आभारी हैं। हमने स्थानीय पुलिस अधिकारियों ने जो टिप्पणियां की उन पर भी गौर किया और हम जानते हैं कि उन्होंने सभी प्रतिभागियों के सर्वश्रेष्ठ हितों को ध्यान में रखा होगा।

उन्होंने कहा कि हमने इसके अलावा विदेश मंत्रालय और ब्रिटिश उच्चायोग की सलाह भी ली। हमने पिछले दो दिन सेउनसे लगातार बातचीत की। इन सबका नतीजा यही निकाला कि सुरक्षा सबसे महत्वपूर्ण है और इसलिए खेद के साथ कहनापड़ रहा है कि टीम तुरंत स्वदेश रवाना हो जाएगी।

इंग्लैंड के परफोरमेंस डायरेक्टर इयान मोस ने कहा कि खिलाड़ी काफी निराश हैं क्योंकि उन्हें टूर्नामेंट में भाग लिए बिनाभारत से जाना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि यह निराशाजनक है विशेषकर तब जबकि हमने पिछले सप्ताह दोहा में शिविर आयोजित करके बहुत अच्छी तैयारी की थी।

मोस ने कहा कि हमारे खिलाड़ी इस चैंपियनशिप के लिए अच्छी तरह से तैयार थे लेकिन आखिर प्रदर्शन पर व्यक्तिगतसुरक्षा अहम होती है। उन्होंने कहा कि यह पूरी टीम का सामूहिक फैसला है और आयोजन समिति ने सभी खिलाड़ियों के लिए संभावित सुरक्षित माहौल मुहैया कराने के जो प्रयास किए हैं इस फैसले का उससे लेना देना नहीं है।

इंग्लैंड की टीम में एंड्रयू स्मिथ और राजीव ओसेफ को एकल में जबकि एंथनी क्लार्क, नाथन राबर्टसन, क्रिस एडकाक, डोना केलोग, गैबी व्हाइट और जैनी वालवर्क को युगल में भाग लेना था।

गृह मंत्री पी चिदंबरम ने इससे पहले आश्वासन दिया था कि गृह मंत्रालय ने जो अलर्ट जारी किया है वह रूटीन है औरटूर्नामेंट को तुरंत किसी तरह के खतरे की कोई विशिष्ट जानकारी नहीं है। चिदंबरम ने कहा कि मुझे संतोष है कि वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप पूरी सुरक्षा के बीच आयोजित की जाएगी। किसी को भी चिंता करने की जरूरत नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:धमकी से डर इंग्लैंड वर्ल्ड चैंपियनशिप से हटा