DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एच1 एन1 से डरें नहीं, सावधानी बरतें

एच1 एन1 से डरें नहीं, सावधानी बरतें

पुणे में इंफ्लूएंजा एच1एन1 यानी स्वाइन फ्लू से एक स्कूली छात्र की मौत के बाद देश भर में इस रोग को लेकर मची अफरा-तफरी के बीच विशेषज्ञों का मानना है कि बीमारी का सौ फीसदी उपचार संभव है, लेकिन आज सबसे बड़ी जरूरत इस रोग के प्रति सचेत रहने और सावधानी बरतने की है।

दिल्ली की स्वास्थ्य मंत्री किरण वालिया ने इस संबंध में बताया कि एच1एन1 का 100 प्रतिशत इलाज संभव है इसलिए इस रोग से भयभीत होने की आवश्यकता नहीं है, केवल सावधानी बरतने की जरूरत है । अगर किसी को इस रोग के लक्षण दिखायी दें तो वह तुरंत अपनी जांच कराये ।

दिल्ली सरकार में इंफ्लूएंजा नियंत्रण विभाग के वरिष्ठ अधिकारी आरपी वशिष्ठ ने बताया कि इस बीमारी से डरें नहीं, बल्कि जागरुक होकर इससे बचने के लिए सावधानी बरतें । उन्होंने बताया कि हमारे देश में इस बीमारी का सौ प्रतिशत उपचार उपलब्ध है, लेकिन यह तभी संभव है जब रोग का पता समय पर चल जाये ।

उन्होंने बीमारी के लक्षणों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि स्वाइन फ्लू के लक्षण भी सामान्य फ्लू की तरह ही हैं । बुखार, खांसी, गले में पीड़ा, नाक बहना और सांस लेने में तकलीफ स्वाइन फ्लू के सामान्य लक्षण हैं । आवश्यकता इस बात की है कि इन लक्षणों के दिखाई देने पर तुरंत नजदीकी चिकित्सक से संपर्क करें और अपनी जांच कराएं ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एच1 एन1 से डरें नहीं, सावधानी बरतें