DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आईआईटी के 50 वर्ष, नेहरू के सपनों का साकार होना है : नारायणमूर्ति

इन्फोसिस के संस्थापक एन आर नारायणमूर्ति ने कहा कि आईआईटी कानपुर के 50 वर्ष पूरे होने पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू का विश्व स्तरीय तकनीकी संस्थान बनने का सपना साकार होना है।

उन्होंने कहा कि इसके बावजूद अभी बहुत काम करना बाकी है, क्योंकि काफी प्रयासों के बावजूद हमारी शोध अमेरिका के उच्च तकनीकी संस्थान की अनुसंधान के आगे नहीं टिकती है।

आईआईटी कानपुर के पचास वर्ष पूरे होने पर संस्थान में आयोजित स्वर्ण जयंती समारोह का उदाटन करते हुए इन्फोसिस के संस्थापक एन. आर. नारायणमूर्ति अपनी पुरानी यादों में खों गये।

उन्होंने बताया कि 1969 में आईआईटी कानपुर से बीटेक किया था। उस समय पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू का सपना था कि इस संस्थान को दुनिया का बेहतरीन तकनीकी संस्थान बनाया जाये और पंडित नेहरू का यह सपना आज इस संस्थान के पचास वर्ष पूरे होने पर साकार होता दिख रहा है।

नारायणमूर्ति ने कहा कि आज दुनिया का कोई भी क्षेत्र हो चाहे वह सूचना प्रौदयोगिकी, बैंकिग एवं फाइनेंस, कोआपरेट जगत या कोई भी अन्य क्षेत्र आपको हर जगह आईआईटी कानपुर के पूर्व छात्र, छात्रायें उच्च पदों पर मिल जायेगे।

उन्होंने कहा कि किसी भी संस्थान की प्रगति के लिये पचास साल का समय काफी होता है। लेकिन असली चुनौतियां 50 वर्ष बाद सामने आती है। आईआईटी कानपुर का शोध कार्य बहुत ही शानदार है। लेकिन अभी भी हमारा अनुसंधान अमेरिका के उच्च तकनीकी संस्थान की तुलना में कम है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आईआईटी के 50 वर्ष, नेहरू के सपनों का साकार होना