DA Image
28 फरवरी, 2020|4:58|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत से बहुत कुछ सीखना चाहता है जापान

भारत से बहुत कुछ सीखना चाहता है जापान

एशिया का एकमा? विकसित देश होने और तकनीकी व विकास में दुनिया की महाशक्तियों से मुकाबला करने में जापान भले ही अव्वल हो लेकिन वह विकास दर और पंचवर्षीय योजनाओं की नीतियों के मामले में अपने गुरु देश भारत से बहुत ही प्रभावित है। जापान न केवल भारत से इस मामलों में सीखकर इन नीतियों को किन्यान्वित करना चाहता है बल्कि वह आर्थिक व तकनीक के मामलों में भारत का पूरा सहयोग भी करना चाहता है।

भगवान बुद्ध की मूलभूमि होने के कारण बौद्ध मताबलंबी जापान की भारत के प्रति अगाध श्रद्धा है। लेकिन अब तक भारत से प्रगाढ संबंध विकसित न कर पाने का उसे मलाल भी है। जापानियों की इस भावना का इजहार करते हुए कोफकू जित्सुजेन पार्टी के महासचिव सह प्रचार प्रमुख जिकिदो आइवा ने कहा कि उनकी पार्टी की नीतियों में भारत के साथ न केवल सैन्य संबंधों को जोड़ना है बल्कि विज्ञान, तकनीकी और आर्थिक स्तर पर भी एक दूसरे के करीब आना है। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी मानती है कि भारत ने अपनी जनता को शिक्षित करने के लिए जो विभिन्न योजनाओं को शुरू किया वह जापान के लिए मॉडल बन सकता है। भारत की शिक्षा नीति भी जापान के लिए मार्गदर्शक हो सकता है।

इसके अलावा पिछले कई सालों से भारत में 8-9 फीसदी की विकास दर को भी उनकी पार्टी प्रभावित है।

आइवा ने कहा कि भारत ने आजादी के बाद जो पंचवर्षीय योजनाएं लागू कीं और इसके माध्यम से विभिन्न क्षेत्रों में जो प्रगति की है’ उससे उनकी पार्टी काफी प्रभावित है। फीसदी करने के लिए भारत से सीख लेंगे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:भारत से बहुत कुछ सीखना चाहता है जापान