DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अधिकारियों को ऑन लाइन पत्रचार के निर्देश

अब शिक्षा विभाग में पत्रचार के लिए स्याही और कलम से कागज को काला करने की जरुरत नहीं होगी। ना ही पत्रचार के लिए डाक या फैक्स का सहारा लेना होगा। अब महज एक क्लिक में चंडीगढ़ बैठे अधिकारियों को पूरे प्रदेश में विभागीय अधिकारियों तमाम जानकारियां उपलब्ध होंगी। गौर करने वाली बात यह है कि किसी भी पत्रचार के लिए ई-मेल के प्रयोग के लिए विभाग ने निर्देश जारी कर दिए हैं।

नए आदेश के अनुसार विभागीय जानकारी फैक्स या डाक से पत्रचार स्वीकृत ही नहीं किए जाएंगे। विभाग ने प्रदेश के सभी डीईओ और डीईईओ को निर्देश दिए है कि कागजी कार्रवाई ई-मेल के जरिए की किया जाए। इससे जहां कई फायदें है वहीं शिक्षा विभाग से जुड़े कर्मी भी इसके लिए खुद को तैयार नहीं करने की चिंता सताने लगी है। ऐसा लागू होते ही, अब किसी भी कर्मी को कम्प्यूटर पर ही कार्य करने की मजबूरी होगी।


विभाग इससे पहले आधुनिकीकरण के तहत सभी शिक्षकों को एक आईडी नम्बर जारी कर रखा है। इस नम्बर से नेट पर ही इस शिक्षक के बारे में पूरा ब्योरा एक क्लिक में मिल जाएगा। इससे विभाग को शिक्षकों के प्रमोशन या उनकी उपलब्धियां सहित उनसे जरुरी तमाम जानकारियां अधिकारियों को चंडीगढ़ से मिल जाती है। विभाग की ओर से पहले ही अधिकतर सीनियर सेकेंडरी व प्राइमरी स्कूलों में क म्प्यूटर उपलब्ध करा दिए गए हैं।
कुछ दिन पहले ही सेकें डरी एजुकेशन निदेशक का कार्यभार अशोक यादव ने संभाला है। उन्होंने सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए है कि जिला स्तर या बीईओ विभाग केा पत्रचार करने के बजाय सभी सूचनाएं ई-मेल के जरिए ही भेजे। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी अपने ई मेल आईडी उच्चधिकारियों के पास जल्द उपलब्ध कराए। बीईओ राम कुमार फलसवाल ने बताया कि इससे काफी सहुलियतें मिलेगी। क्योंकि  अक्सर आवश्यक कागजात फैक्स करने के बाद न मिलने की शिकायत रहती है। उन्होंने बताया कि निदेशक ने निर्देश दिए है कि सीनियर सेकेडरी स्कूलों के कोई भी रिपोर्ट हाथ से लिखी नहीं होनी चाहिए। रिपोर्ट कम्प्यूटर से बनी हुई को प्रिंट होना चाहिए। सीनियर सेकेंडरी स्कूल की प्रिंसिपल कमलेश रानी के कहा कि ये स्वागत योग्य कदम है। हसला के प्रधान बालकिशन यादव ने कहा कि इसके कई फायदें है। लेकिन, इसके लिए जरूरी है कि लोगों केा कम्प्यूटर के बारे में जानकारी कराई जाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अधिकारियों को ऑन लाइन पत्रचार के निर्देश