DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब सभी महानगरों में होगी मेट्रो, विधेयक पास

अब सभी महानगरों में होगी मेट्रो, विधेयक पास

देश में दस लाख से अधिक जनसंख्या वाले महानगरों में मेट्रो रेल परियोजनाओं को कानूनी आधार प्रदान करने संबंधी मेट्रो रेल संशोधन विधेयक 2009 को शुक्रवार को संसद ने पारित कर दिया।

राज्यसभा में शुक्रवार को पारित इस विधेयक में दिल्ली मेट्रो के कार्यक्षेत्र का विस्तार राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र तक कर दिया गया है ताकि उत्तरप्रदेश में नोएडा और हरियाणा में गुडगांव में निर्माण कार्य में कोई कानूनी बाधा नहीं आए। लोकसभा इस विधेयक को गुरुवार को पारित कर चुकी है।

शहरी विकास मंत्री जयपाल रेड्डी ने विधेयक पर हुई चर्चा का उत्तर देते हुए कहा कि देश के दस लाख से अधिक आबादी वाले महानगरों में मेट्रो रेल प्रणाली निर्मित करने के लिए केन्द्र सरकार राज्यों को पूरी सहायता देगी।

उन्होंने कहा कि ऐसी परियोजनाओं की पहल राज्य सरकारों को ही करनी है। परियोजना के आर्थिक रूप से व्यावहारिक पाए जाने पर केन्द्र सरकार आवश्यक सहायता प्रदान करेगी।

उन्होंने कहा कि दिल्ली मेट्रो प्रणाली के काम की निश्चित समयसीमा तथा मुख्य परियोजनाओं को अगले वर्ष राष्ट्रमंडल खेलों के पहले पूरा करना है। उन्होंने कहा कि सरकार चाहती है कि सुरक्षा पहलुओं को ध्यान में रखते हुए निर्माण कायरे को तेजी से पूरा किया जाए। भारत के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक की रिपोर्ट में दिल्ली मेट्रो के कामकाज पर कुछ विपरीत टिप्पणियों के बारे में उन्होंने कहा कि संसद की लोकलेखा समिति इस संबंध में अध्ययन करेगी तथा सरकार इस पर आवश्यक कार्रवाई करेगी। उन्होंने कहा कि दिल्ली मेट्रो में श्रमिकों के हितों पर अधिक ध्यान देने की जरूरत है। विधेयक हुई चर्चा में भाजपा के एसएस आहलूवालिया, कांग्रेस के रामचंद्र खूटिया, सपा के ब्रजभूषण तिवारी, माकपा के प्रशांत चटर्जी आदि ने भाग लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब सभी महानगरों में होगी मेट्रो, विधेयक पास