DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उप्र के विश्वविद्यालयों में 20 प्रतिशत सीटों की बढ़ोत्तरी

प्रदेश सरकार ने राज्य के सभी विश्वविद्यालयों और उसे संबद्ध कालेजों की मौजूदा सत्र में स्नातक कक्षाओं में 20 प्रतिशत सीटे बढ़ाने का शासनादेश जारी कर दिया है।

शासनादेश के अनुसार, राज्य के सभी विश्वविद्यालयों तथा उनसे संबद्ध कालेजों में स्नातक कक्षाओं में 20 प्रतिशत सीटें बढ़ जायेगी और इसके साथ ही कुलपति को भी पांच प्रतिशत सीटें बढ़ाने का अधिकार दिया गया है।

उच्च शिक्षा विशेष सचिव वी के गुप्ता ने बताया कि शासनादेश मे 20 प्रतिशत सीटे बढ़ाकर स्नातक कक्षाओं में छात्रों को दाखिला दिया जायेगा और इसके बाद भी अगर छात्रों को प्रवेश नहीं मिल पाया, तो कुलपति पांच प्रतिशत सीटे स्वयं बढ़ा सकते है। सरकार के इस निर्णय से प्रदेश में उच्च शिक्षा में छात्रों के प्रवेश की समस्या हल हो जायेगी।

गौरतलब है कि इस वर्ष इण्टरमीडिएट में पिछले सालों की अपेक्षा काफी अच्छी संख्या में करीब 17 लाख 39 हजार छात्र उत्तीर्ण हुए जिसके अनुरुप प्रदेश के विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों में छात्रों के प्रवेश के लिए लगभग 12 लाख सीटे ही उपलब्ध है। इसीलिए सभी छात्रों को स्नातक कक्षाओं मे प्रवेश दिलाने की मंशा से सरकार ने सीटे बढ़ाने का निर्णय लिया है।

लखनऊ विश्वविदयालय के सूत्रों के अनुसार, अभी तक विश्वविद्यालय में स्नातक की कुल 3550 सीटे थी जो शासनादेश के बाद 887 सीटें और बढ़ गयी है। वही लविवि से संबद्ध 73 डिग्री कालेजों में स्नातक की कुल 38500 सीटें है, जिसमें अब 9625 छात्रों को और प्रवेश मिल सकेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उप्र के विश्वविद्यालयों में 20 प्रतिशत सीटों की बढ़ोत्तरी