DA Image
25 फरवरी, 2020|8:31|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जनरेटर चलाकर भरी जा रही है पानी की टंकी

बिजली कटौती ने जहां आम जन त्रस्त है वहीं नगर निगम के लिए भी कम परेशानी की बात नही है। अंधाधुंध कटौती के कारण क्षेत्र में पानी आपूर्ति करना जलकल विभाग को टेढ़ी खीर साबित हो रही है। इसके लिए निगम को जनरेटर का सहारा लेना पड़ रहा है। ऐसे में निगम के ऊपर अतिरिक्त खर्च का भार बढ़ गया है।


भीषण बिजली कटौती नगर निगम के लिए परेशानी का सबब बनता जा रहा है। आए दिन बिजली कटौती से विभाग के अधिकारी परेशान हैं। पानी की आपूर्ति के लिए उन्हें भारी मसक्कत करनी पड़ रही है। लोगों को सुचारु पानी मिल सके इसके लिए रोजाना जनरेटर चलाकर पानी की टंकियों को भरा जाता है। मोहन नगर जोन के अवर अभियंता डीके सत्संगी ने बताया कि बिजली कटौती सबसे बड़ी समस्या बनती जा रही है। कटौती का कोई सही समय न होने के कारण टंकियों में पानी भरने के लिए भारी मसक्कत करनी पड़ रही है। उन्होने बताया की टीला मोड़ से शहीद नगर, लाजपत नगर, राजेन्द्र नगर शालीमार गार्डन आदि कई इलाकों में स्थित पानी की टंकियों को भरा जाता है। गर्मी के मौसम में पानी की खपत भी ज्यादे होती है। ऐसे में बिजली न रहने पर जनरेटर चलाकर टंकियों को भरा जा रहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:जनरेटर चलाकर भरी जा रही है पानी की टंकी