DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लेडीज स्पेशल

रक्षा बंधन पर रेलमंत्री ममता बनर्जी ने दिल्ली से पलवल के बीच महिला स्पेशल ट्रेन चलवा ही दी। नौकरी या कामधंधे के लिए पलवल या फरीदाबाद से रोज दिल्ली आने वाली महिलाओं के लिए यह ट्रेन शायद सुविधाजनक हो सकती है। ममता बनर्जी ने गाजियाबाद, सोनीपत वगैरह आस-पास के शहरों से दिल्ली तक ऐसी ही महिला स्पेशल ट्रेनें चलवाने का वादा किया है और देश के दूसरे महानगरों में भी ऐसी ही सुविधा देने की बात की है। ममता बनर्जी के इस कदम के पीछे की नेकनीयत को नकारे बिना भी कुछ संदेश तो इसकी उपयोगिता में होते ही हैं। चूंकि ममता बनर्जी का यह कदम राजधानी और आस-पास के इलाकों की महिलाओं के लिए यातायात में सुरक्षा और सुविधा की किसी व्यवस्थित योजना का हिस्सा नहीं है, इसलिए इसकी सफलता संदिग्ध है। दिल्ली में लोकल ट्रेन चलाने की जो योजना कभी बनी थी, वह सही नियोजन के अभाव में बुरी तरह असफल सिद्ध हुई है, और ये स्पेशल ट्रेनें भी इसी योजना का एक हिस्सा हैं। दिल्ली में ईएमयू की मौजूदगी बहुत कम है, इतनी कि उस पर निर्भर नहीं रहा जा सकता। चूंकि उस पर ज्यादा बड़ी तादाद में लोग निर्भर नहीं हैं, इसलिए उनकी यात्रा उतनी सुरक्षित भी नहीं है, ट्रेनों में और स्टेशनों पर असामाजिक तत्व अक्सर अड्डा जमाए होते हैं। वे भरोसेमंद इसलिए भी नहीं हैं, क्योंकि दूरगामी ट्रेनों के लिए उन्हें रोक दिया जाता है। ईएमयू ट्रेनों और कुछ स्टेशनों पर जिस तरह का माहौल होता है, उसमें सिर्फ महिलाओं की ट्रेनें बावजूद महिला सुरक्षा गार्डो के, यह देखना होगा। ममता बनर्जी के साथ झंडी दिखाने वालों में दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित भी थीं। उनसे यह पूछा जा सकता है कि शहर में सफर में महिलाओं की असुरक्षा और अपमान की सबसे बड़ी वजह ब्लू लाइन बसों के हटाने का क्या हुआ? डीटीसी की जो बसें उन्हें स्थानापन्न करने के लिए आने वाली थीं, उन्हें किसी न किसी बहाने से रोका क्यों ज रहा है? अगर दिल्ली और आस-पास की राज्य सरकारें, रेलवे मंत्रालय और मेट्रो रेल कॉपरेरेशन मिल कर कोई समेकित योजना बनाए तो दिल्ली में महिलाओं का सफर आरामदेह और सुरक्षित हो सकता है। एक निहायत आक्रामक और अराजक माहौल में एक महिला स्पेशल सुविधाजनक और सुरक्षित नहीं हो सकती। अगर सरकार ऐसा कुछ नहीं करती तो फिर यह सिर्फ लोकलुभावन कदम ही कहलाएगा, जिसकी सफलता संदिग्ध है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लेडीज स्पेशल