DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘वाटर एंड वेस्ट वाटर’ संग्रहालय का विकास

दिल्ली जल बोर्ड ने ‘वाटर एंड वेस्ट वाटर’ संग्रहालय के विकास के लिए राष्ट्रीय विज्ञान केन्द्र, दिल्ली के साथ एक आपसी सहमति के ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए । 200 वर्ग मीटर में फैले इस संग्रहालय को प्रगति मैदान स्थित राष्ट्रीय विज्ञान केन्द्र के परिसर में स्थापित किया जाएगा, जहां साल भर में साढ़े चार लाख दर्शक आते हैं।
दिल्ली जल बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रमेश नेगी ने बताया कि इसका मकसद दिल्ली जल बोर्ड द्वारा राजधानी में उपलब्ध कराई जा रही पेयजल और सीवरेज व्यवस्था के बारे में विस्तृत जानकारी देना तो है ही, साथ ही बोर्ड द्वारा यमुना की सफाई के लिए अब तक किए गए प्रबंधों और आगामी योजनाओं के बारे में भी जानकारी होगी।


इसके अलावा सीवेज और गंदगी का गलत ढंग से डंप करने पर होने वाली बीमारियों और यमुना, तालाब और जोहड़ों में प्रदूषण के कारणों, वर्षा जल संचयन और जल संरक्षण के तरीकों के बारे में भी जागरूक किया जाएगा। संग्रहालय में तकनीकी परियोजनाओं के क्रियाशील मॉडलों के अतिरिक्त, पारस्परिक क्यिोस्क, टच स्क्रीन उपकरण, ग्राफिक पैनल एवं डिस्पले प्रणालियां होंगी ।

नेगी ने उम्मीद जताई कि आशा है कि दिल्ली के लोगों से इसके प्रति अच्छी प्रतिक्रिया मिलेगी तथा विशेष तौर पर युवा वर्ग की, जिनकी भागीदारी इस अभियान की सफलता के लिए बहुत महत्वपूर्ण है’।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:‘वाटर एंड वेस्ट वाटर’ संग्रहालय का विकास