DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

काउंसिलिंग के बाद भी खाली हैं बीटेक की 42 हजार सीटें

उत्तर प्रदेश प्राविधिक इंजीनियरिंग विश्वविद्यालय (यूपीटीयू) की काउंसिलिंग के बाद लगभग 42 हजार बीटेक की सीटें अभी भी रिक्त पड़ी हुई, क्योंकि निजी कालेजों द्वारा बढ़ाई गयी फीस के चलते छात्र प्रवेश नहीं ले रहे है।

सूत्रों के अनुसार , यूपीटीयू में सरकारी और निजी कालेजों को मिलाकर लगभग 91 हजार सीटें हैं और प्रवेश परीक्षा में लगभग दो लाख छात्र सफल भी हुए हैं लेकिन 26 जुलाई से पांच अगस्त तक चली काउंसिलिंग में लगभग 48 हजार छात्रों ने ही प्रवेश प्रक्रिया को पूरा किया है।

सूत्रों का मानना है कि पिछले वर्ष शासन ने बीटेक की फीस 63400 रुपये तय की गयी थी परन्तु निजी कॉलेज इसे 70 हजार कराने में सफल रहे थे और छात्रावास की सालाना फीस भी 55 से 70 हजर रुपये पड़ती है। आशंका जतायी जा रही है कि इस बढ़ी हुई फीस के कारण भी छात्र यूपीटीयू में प्रवेश नही ले रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बीटेक की 42 हजार सीटें