DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

26/11 के दोषियों के खिलाफ वैश्विक एलर्ट

26/11 के दोषियों के खिलाफ वैश्विक एलर्ट

पाकिस्तान के अनुरोध पर इंटरपोल ने 26 नवंबर को मुंबई में हुए आतंकवादी हमले के वांछित 13 संदिग्धों के खिलाफ गुरुवार को वैश्विक एलर्ट जारी किया।

अंतरराष्ट्रीय पुलिस एजेंसी द्वारा जारी एक वक्तव्य में कहा गया कि यह एलर्ट पाकिस्तान के लिखित अनुरोध पर जारी किया गया। उसमें कहा गया कि मुंबई आतंकवादी हमलों की जांच के सिलसिले में पाकिस्तान में पुलिस अधिकारियों को 13 संदिग्धों की तलाश है।

हालांकि, वक्तव्य में संदिग्धों की पहचान नहीं बताई गई है, लेकिन इसमें कहा गया है कि वैश्विक एलर्ट में भगोड़ों और उनके बारे में अन्य आंकड़े शामिल होते हैं। इसे 186 सदस्य देशों में भेजा गया है।

एलर्ट में इंटरपोल सदस्य देशों से कहा जाता है कि वे भगोड़ों का पता लगाने में सहायता करें और तत्काल इसकी सूचना इस्लामाबाद में नेशनल सेंट्रल ब्यूरो (एनसीबी) या फ्रांस के लियोन स्थित इंटरपोट महासचिवालय मुख्यालय को दें।

वक्तव्य में कहा गया है कि उनका पता लगाए जाने के बाद पाकिस्तानी अधिकारी गिरफ्तारी वारंट जारी करेंगे और उनका प्रत्यर्पण किए जाने की मांग करेंगे। इसमें संकेत दिया गया है कि ज्यादातर वे संदिग्ध, जिनके खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया गया है, वस्तुतः पाकिस्तान में नहीं हैं।

इंटरपोल की मदद मांगने के लिए पाकिस्तान की सराहना करते हुए संस्था के महासचिव रोनाल्ड के नोबल ने कहा, जब तक आतंकवाद से जुड़ी सूचना को इंटरपोल के वैश्विक डेटाबेस में दर्ज नहीं किया जाता है और इसके वैश्विक नेटवर्क के बीच साक्षा किया जाता है तब तक अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घटना की जांच पूरी नहीं हो सकती।

इंटरपोल का हस्तक्षेप मुंबई हमले के बाद नोबल की भारत और पाकिस्तान यात्रा के बाद हुआ है। इस दौरान उन्होंने दोनों देशों को जांच और आतंकवादी घटनाओं को रोकने में मदद की पेशकश की थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:26/11 के दोषियों के खिलाफ वैश्विक एलर्ट