DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इंद्रगणी में तैनात हैं सोलह शिक्षक

बेसिक शिक्षा विभाग में एक तरफ एकल विद्यालय चल रहे हैं तो दूसरी विभाग के अफसरों ने एक स्कूल में तमाम मानकों को ताक पर रखकर सोलह शिक्षकों की तैनाती कर रखी है। यह खुलासा आरटीआई से हुआ। अब आरटीआई एक्टीविस्ट सचिन सोनी ने अतिरिक्त शिक्षक हटाने को आरटीआई का इस्तेमाल किया है। मामला एडी बेसिक के पास पहुंच गया है।


शहरी स्कूलों में अपनी पहुंच का इस्तेमाल कर और अफसरों को खुश करके शिक्षक तैनाती पाते हैं। देहात के स्कूलों में शिक्षकों की कमी है, लेकिन तमाम मानकों को ताक रखकर इंद्रगणी में सोलह शिक्षकों की तैनाती कर दी है। आरटीआई एक्टीविस्ट सचिन सोनी ने इस संबंध में जबाव मांगा तो विभाग ने माना कि शिक्षक अधिक हैं। विभागीय मानकों के अनुसार यहां शिक्षकों की संख्या छह होनी चाहिए। दस शिक्षक अतिरिक्त हैं। जब विभाग से पूछा गया कि अतिरिक्त शिक्षकों को क्यों नहीं हटाया गया तो विभाग का जबाव था कि इस संबंध में शिक्षा निदेशक बेसिक को पत्र लिख दिया गया है। मामले में सही जबाव न मिलने पर सचिन सोनी ने एडी बेसिक के पास शिकायत की है। मिलक चाकरपुर जैसे गांव में जहां मात्र एक हेडमास्टर के सहारे पढ़ाई हो रही है, वहीं इंद्रगणी में सोलह शिक्षक तैनात हैं और बेसिक के अफसर अपने विभाग के मानकों का ही पालन नहीं कर रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इंद्रगणी में तैनात हैं सोलह शिक्षक