DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस बंद होने के कगार पर

पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस बंद होने के कगार पर

वैश्विक आर्थिक मंदी से जूझ रही पाकिस्तान की सरकारी विमानन कंपनी पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (पीआईए) यात्रियों की कमी और बढ़ते घाटे के कारण बंद होने के कगार पर पहुंच चुकी है। पीआईए के प्रबंध निदेशक यह स्वीकार किया है।

पीआईए के प्रबंध निदेशक कैप्टन एजाज हारून निजी टेलीविजन चैनल जियो न्यूज के एक कार्यक्रम में स्वीकार किया पीआईए तकनीकी रूप से दिवालिया हो चुकी है। पीआई के दिवालिया होने को लेकर प्रकाशित खबरों को सही बताते हुए कहा कि वह सच्चाई को छुपाने की कोशिश नहीं कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि पीआईए की यह स्थिति एक दिन या एक महीना या एक वर्ष में नहीं हुई है। यह एयरलाइंस तकनीकी रूप से वर्ष 2000 में ही दिवालिया हो चुकी थी। वर्ष 2001 में सरकार ने इसको मदद कर रही है। पीआईए को वर्ष 2001 में 13 अरब पाकिस्तानी मुद्रा का नुकसान हुआ था जो अब बढ़कर 140 अरब रूपये हो चुका है।

हारून ने कहा कि सरकार ने लेबआउट के रूप में इसमें राशि लगाई। वर्ष 2003 में सरकार ने राशि लगाई लेकिन बाद में उसे स्थगित कर दिया जिसके परिणाम स्वरूप यह एयरलाइंस आज मृत्यु शैय्या पर पर पहुंच गई है। उन्होंने एक सवाल के जबाव में बताया कि सरकार ने अब तक जितनी राशि पीआईए में लगाई है वे सभी बैंकों से ऋण ली हुई है और एयरलाइंस को ब्याज सहित उसका भुगतान करना होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस बंद होने के कगार पर