DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हादसे का सबब बन सकते हैं जर्जर भवन, नोटिस जारी

श्री काशी विश्वनाथ मंदिर परिसर से सटे इलाकों में स्थित आठ जर्जर भवनों को ढहाने के लिए नगर निगम ने भवन स्वामियों को नोटिस जारी कर दिये हैं। जर्जर मकानों को न गिराने पर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। जरूरत पड़ने पर नगर निगम खुद जर्जर भवनों को ढहाएगा और भवन स्वामियों से खर्च वसूलेगा।

ज्ञानवापी के पुलिस अधीक्षक (सुरक्षा) अमरेंद्र प्रताप सिंह ने नगर आयुक्त डा. नंद किशोर को अवगत कराया था कि मंदिर परिसर से सटे इलाकों में कई मकान जजर्र हो चुके हैं। यदि उन्हें शीघ्र ही नहीं ढहाया गया, तो कोई बड़ा हादसा हो सकता है। कई जजर्र मकान तो मंदिर आने वाले मुख्य मार्ग पर स्थित हैं।

इन मकानों को गिरने से बचाने के लिए बांस-बल्लियां लगाई गई हैं और उनके कमरों में दुकानें भी चल रही हैं। जजर्र मकानों से मलबा गिरने से कई लोग घायल भी हो चुके हैं। नगर आयुक्त के निर्देश पर इंजीनियरिंग विभाग ने आठ भवन स्वामियों को नोटिस जारी किए हैं। मुख्य अभियंता जितेंद्र केन से जजर्र भवनों की सूची मांगी गई तो वह उपलब्ध नहीं करा सके। उन्होंने बताया कि वह पता लगाकर बताएंगे कि किन भवन स्वामियों को नोटिस जारी किए गए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:श्री काशी विश्वनाथ मंदिर क्षेत्र का मामला