DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एक और गवाह ने कसाब को पहचाना

एक और गवाह ने कसाब को पहचाना

मुंबई में पिछले साल 26 नवंबर को हुए आतंकी हमलों के मामले में एक गवाह ने सोमवार को अदालत में यह कहते हुए प्रमुख आरोपी मोहम्मद अजमल कसाब की पहचान की कि मंत्रालय के निकट बंदूक दिखाकर स्कोडा कार लेकर उड़ने वाले दोनों आतंकवादियों में से एक वह था।

न्यायाधीश एमएल टाहिलियानी के समक्ष गवाही देते हुए समित अजगांवकर ने कहा कि उनके दोस्त शरण अरासा ने हमले वाले दिनअपनी स्कोडा कार में उन्हें लिफ्ट दी थी। जब वे वाल्मीकि चौक पहुंचे तो उन्होंने गोलीबारी की आवाज सुनी। उन्होंने अभियोजक उज्ज्वल निकम से कहा कि आइनॉक्स थियेटर के पास हमने अपनी तरफ आते एक पुलिस वाहन को देखा। दो लोग वाहन से उतरे, एक लंबा था और दूसरा छोटा। छोटे कद के आदमी ने (कसाब की तरफ इशारा करते हुए) हमसे कार से उतरने को कहा।

गवाह के अनुसार लंबा व्यक्ति (मारा गया आतंकवादी अबू इस्माइल) चालक सीट पर बैठे शरण की तरफ गया और जबरदस्ती उन्हें कार से बाहर निकाला। लंबे कद का व्यक्ति चालक सीट पर बैठ गया, जबकि दूसरा आतंकवादी उसके पास अगली सीट पर बैठ गया लेकिन उन्हें तुरंत पता चला कि कार की चाबी उसमें नहीं है। गवाह ने बताया कि ठिगने कद का शख्स शरण की तरफ भागकर गया और उनसे चाबी देने को कहा कि जो कार के पास जमीन पर पड़ी थी।

मुकदमे के दौरान कसाब को अकसर अभियोजक निकम की तरफ मुस्कराते हुए देखा गया। इसके बाद हल्के माहौल में न्यायाधीश नेकहा कि वह आपका चहेता दिखाई देता है। कसाब के वकील अब्बास काजमी ने भी कहा कि कसाब निकम का दोस्त है और इसलिए वह मुस्करा रहा है।

निकम ने इस पर प्रतिक्रिया दी, कसाब जानता है कि उसके पास कुछ दिन हैं (मुकदमा पूरे होने के लिहाज से) और इसलिए वह दोस्ती करने की कोशिश कर रहा है। अब तक मामले में कुल 150 गवाह अपने बयान दे चुके हैं। निकम ने कहा कि मुकदमे की कार्यवाही एक माह के भीतर पूरी होने की संभावना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एक और गवाह ने कसाब को पहचाना