DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीतामढ़ी में बागमती का तांडव कम हुआ, राहत युद्धस्तर पर

नेपाल के जलग्रहण क्षेत्रों में पिछले तीन दिनों से रूक रूक कर हो रही वर्षा से बिहार की तीन प्रमुख नदियां जहां अभी भी खतरे के निशान से उपर है वहीं सीतामढ़ी जिले में बागमती का तांडव कम होने के साथ ही युद्ध स्तर पर राहत एवं बचाव कार्य चलाया जा रहा है।
 
केन्द्रीय जल आयोग के आधिकारिक सूत्रों ने सोमवार को यहां बताया कि बागमती बेनीबाद में 61 अधवारा समूह कमतौल में चार तथा कोसी नदी बसुआ में लाल निशान से चार सेंटीमीटर ऊपर है। इन नदियों और महानंदा नदी के जल स्तर में कल तक और वृद्धि होने की संभावना है।
 
मौसम विभाग ने अगले चौबीस घंटे के अपने पूर्वानुमान में कहा है कि राज्य की सभी नदियों के जलग्रहण क्षेत्र में हल्की वर्षा होने की संभावना है। जल संसाधन विभाग के सूत्रों के अनुसार राज्य के सभी तटबंध पूरी तरह से सुरक्षित है और सभी स्थानों पर विभाग के अभियंता लगातार चौकसी बरत रहे हैं।
 
सीतामढ़ी से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार बाढ़ प्रभावित रून्नी सैदपुर प्रखंड में बागमती नदी के जल स्तर में कमी के बाद जहां पीडि़त लोगों ने राहत की सांस ली वहीं प्रभावितों के बीच युद्धस्तर पर राहत वितरण का कार्य चलाया जा रहा है। जिलाधिकारी विश्वनाथ सिंह ने बताया कि
आज तीसरे दिन पीडि़तों के बीच तीस टन चूड़ा दस टन, गुड़ दो हजार शीट पॉलीथीन का वितरण किया जा चुका है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सीतामढ़ी में बागमती का तांडव कम हुआ, राहत युद्धस्तर पर