DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मऊ पर फायरिंग की सीबीआई जाँच हो- सपा

समाजवादी पार्टी ने मऊ में फायरिंग में लोगों के मारे जाने के पूरे मामले की सीबीआई से जाँच की माँग की है। पार्टी के जाँच दल ने मौके का मुआयना कर लौटने के बाद राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह को सौंपे गए रिपोर्ट में कहा है कि यह मामला पुलिस की अवैध वसूली का अंजाम थी। इसमें पुलिस-प्रशासन और राज्य सरकार की भूमिका की वास्तविक पड़ताल और दोषियों को सजा तभी सुनिश्चित हो सकती है जब सीबीआई जाँच करे।


विधानसभा में विपक्ष के नेता शिवपाल सिंह यादव, विधानपरिषद में नेता प्रतिपक्ष अहमद हसन और सपा के प्रदेश महासचिव ओमप्रकाश सिंह ने रविवार को प्रेस कांफ्रेंस में यह माँग भी की कि दोषी पुलिस अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर करके जेल भेजा जाए, मृतक परिवारों को 10-10 लाख रुपए व घायलों को 5-5 लाख रूपये दिये जाएँ, जिन पर फर्जी मुकदमा कायम किए गए हैं उन्हें खत्म किया जाए, मृतकों के परिजनों व घायलों की ओर से एफआईआर दर्ज की जाए और स्थानीय लोगों का उत्पीड़न बन्द किया जाए।

 श्री यादव ने कहा कि पुलिस की वसूली के चक्कर में ट्रक नो एंट्री में घुस गया जिससे लोगों के कुचले जाने से जनता खफा हुई। पुलिस ने बगैर चेतावनी फायरिंग कर दी। जिनकी भी मौत हुई या जो घायल हैं उन सबको कमर के ऊपर गोली लगी है यानी पुलिस ने मारने के उद्देश्य से ही फायरिंग की। लेकिन सरकार ने किसी पुलिस वाले पर कोई कार्रवाई नहीं की है। मऊ के एसपी को प्रोन्नत कर बस्ती का एसएसपी जरूर बना दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मऊ पर फायरिंग की सीबीआई जाँच हो- सपा